नई दिल्ली: बीजेपी नेता विजेंद्र गुप्ता ने मंगलवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को कानूनी नोटिस भेजकर उनसे उनके इन आरोपों पर माफी मांगने की मांग की कि वह आप प्रमुख की हत्या कराने की साजिश का हिस्सा हैं. गुप्ता ने कहा कि यदि केजरीवाल और सिसोदिया माफी नहीं मांगते हैं तो वह उनके खिलाफ दिवानी एवं फौजदारी कार्यवाही शुरू करेंगे.

बता दें कि केजरीवाल ने हाल ही में एक पंजाबी चैनल को दिए इंटरव्‍यू में आरोप लगाया था कि जिस तरह इंदिरा गांधी की हत्या की गई, उसी तरह भाजपा उनकी, उनके निजी सुरक्षा अधिकारी से हत्या करवाना चाहती है.

दिल्ली विधानसभा में विपक्ष के नेता गुप्ता पहले ही मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री के खिलाफ शिकायत दर्ज कर चुके हैं और उन पर आरोप लगा चुके है कि वे अरविंद केजरीवाल की हत्या कराने की साजिश में उन्हें गलत ढंग से फंसाने की कोशिश कर रहे हैं.

गुप्ता ने एक बयान में कहा, यदि सिसोदिया और केजरीवाल अपने मानहानिकारक, झूठे और बेबुनियाद आरोपों को लेकर सात दिनों में माफी मांगने में विफल रहते हैं तो मैं अधिकृत अदालत में उनके खिलाफ दिवानी एवं आपराधिक कार्यवाही शुरू करने के लिए बाध्य हो जाऊंगा.

इस आरोप पर गुप्ता ने ट्वीट किया, चार मई को थप्पड़ कांड से पहले अरविंद केजरीवाल ने संपर्क अधिकारी से उनके वाहन के इर्द-गिर्द सुरक्षा हटा लेने को कहा. मुख्यमंत्री का निर्देश रोजनामचे में दर्ज है. आप को इससे चुनावी फायदा नहीं मिल सका क्योंकि मैंने इसका पर्दाफाश कर दिया, ऐसे में कुंठा में आकर केजरीवाल कह रहे हैं कि उनके पीएसओ भाजपा को रिपोर्ट करते हैं.

इसके बाद सिसोदिया ने गुप्ता के ट्वीट का हवाला देते हुए ट्वीट किया, भाजपा मुख्यमंत्री की हत्या करवाने की साजिश रच रही है. विजेंद्र गुप्ता के इस ट्वीट ने साबित कर दिया है कि भाजपा को मुख्यमंत्री की दैनिक सुरक्षा योजना की जानकारी मिल रही है और वह उसके आधार पर मुख्यमंत्री की हत्या कराने की साजिश रच रही है. विजेंद्र गुप्ता इस साजिश का हिस्सा हैं.