शाहजहांपुर (उत्तर प्रदेश): लोकसभा चुनाव का पहले चरण के मतदान में सिर्फ तीन दिन बचे हैं. 11 अप्रैल को पहले चरण का मतदान होना है, इससे पहले चर्चा में आने के लिए प्रत्याशी अजब-गजब तरीके अपना रहे हैं.जिले के लोकसभा चुनाव में एक प्रत्याशी ने सोमवार को यहां सेहरा बांध कर और घोड़ी पर सवार होकर बैंड बाजे की धुन पर नाचते हुए बारातियों के साथ अनोखे अंदाज में नामांकन कराया. Also Read - मुश्किल में सनी देओल, चुनावी खर्च 70 लाख की सीमा से 'ज्यादा', EC ने दिया नोटिस

संयुक्त विकास पार्टी के प्रत्याशी वैद्यराज किशन आज घंटाघर से दूल्हा बनकर घोड़ी पर सवार हुए लेकिन कलेक्ट्रेट से पहले ही उनकी बारात को रोक लिया गया और पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों ने उन्हें घोड़ी से उतार दिया. इसके बाद वह कलेक्ट्रेट तक पैदल गए और नामांकन पत्र दाखिल किया. Also Read - दिग्विजय सिंह के हारने पर बैराग्यानंद गिरी लेंगे समाधि, भविष्यवाणी पूरी न होने पर की घोषणा

कलाम और अब्दुल हमीद के अलावा अधिकतर मुस्लिम देशद्रोही: बीजेपी विधायक Also Read - महाराष्ट्र, हरियाणा व झारखंड के विधानसभा चुनावों तक अमित शाह के हाथ में रहेगी बीजेपी की कमान

उन्होंने पत्रकारों से कहा कि वह “राजनीति के दामाद” हैं और आज उनकी शादी की सालगिरह है, इसलिए वह दूल्हा बनकर नामांकन कराने आए हैं. वैद्यराज किशन पिछले विधानसभा चुनाव में अर्थी पर लेट कर नामांकन कराने गए थे, इससे पहले वह भैंसा गाड़ी पर सवार होकर भी नामांकन करा चुके हैं. वह कई चुनावों में अपनी किस्मत आजमा चुके हैं .