लखनऊः उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का कहना है कि लोकसभा चुनाव में मिला जनादेश नए भारत का, नया उत्तर प्रदेश बनाने का जनादेश है. यह जनादेश उन राजनीतिक दलों को करारा जवाब है जिन्होंने समाज कल्याण के नाम पर गरीबों को ठगा और जाति की राजनीति की. योगी ने कहा कि सपा बसपा का अवसरवादी गठबंधन जाति की राजनीति पर निर्भर था लेकिन ‘‘हमने जाति, सम्प्रदाय या धर्म से ऊपर उठकर नागरिकों के विकास की बात की .’’ Also Read - बंगाल में भाजपा के सत्ता में आने के बाद गोरखा समस्या का समाधान हो जाएगा: अमित शाह

उन्होंने कहा कि यही वजह है कि जनता ने भाजपा को वोट किया. योगी ने प्रचंड जनादेश का श्रेय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को दिया. मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश में भाजपा को मिला व्यापक जनादेश नए भारत का, नया उत्तर प्रदेश बनाने के लिए है. यह जनादेश जातिवाद, भाई-भतीजावाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ है . यह सपा के गुंडों पर विजय है जो हमारी माताओं, बहनों का उत्पीड़न करते थे, जो व्यापारियों और उद्योगपतियों से गुंडा टैक्स वसूलते थे. Also Read - WB Assembly Electons 2021: ममता बनर्जी के बाद अब भाजपा नेता राहुल सिन्हा पर EC का एक्शन, लगाना 48 घंटे का बैन

उन्होंने कहा कि पहले उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था की स्थिति खराब थी. अपराधियों, भ्रष्ट पुलिस अधिकारियों और राजनेताओं की मिलीभगत से राज्य में अपराध धंधा बन गया था लेकिन मौजूदा सरकार ने अपराध के प्रति ‘कतई बर्दाश्त नहीं’ की नीति अपनाई है. पिछले दो साल में उत्तर प्रदेश के इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ कि अपराधियों पर कड़ी कार्रवाई की गई, भले ही वे किसी जाति, धर्म या राजनीतिक पृष्टभूमि के हों. Also Read - ममता बनर्जी का चुनाव आयोग से अनुरोध, 'केवल बीजेपी की ही नहीं, सभी की सुनें'; लगाया पक्षपात का आरोप

योगी के सहायकों द्वारा उपलब्ध कराए गए आंकड़ों के मुताबिक, भाजपा के शासनकाल में 3539 मुठभेड़ हुईं, 8135 अपराधियों को गिरफ्तार किया गया और पुलिस की आत्मरक्षा की कार्रवाई में 75 अपराधी मारे गए. सर्वाधिक वांछित 2764 अपराधी गिरफ्तार किए गए और 13,886 ने आत्मसमर्पण किया. योगी ने कहा कि राज्य में पिछले दो साल में एक भी दंगा नहीं हुआ.