मुंबई: महाराष्ट्र में विपक्षी कांग्रेस सांगली लोकसभा सीट अपनी सहयोगी स्वाभिमानी शेतकारी संगठन (एसएसएस) को देने पर राजी हो गई है. कांग्रेस नेता सतेज पाटिल ने रविवार को को बताया कि पार्टी के पूर्व सांसद व केंद्रीय मंत्री प्रतीक पाटिल के छोटे भाई विशाल पाटिल को सांगली सीट से एसएसएस उम्मीदवार के तौर पर उतारा जाएगा. प्रतीक पाटिल और विशाल पाटिल महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री दिवंगत वसंतदादा पाटिल के पौत्र हैं.

केंद्र में मंत्री रहे इस नेता ने कांग्रेस से तोड़े रिश्‍ते, दादा रह चुके हैं महाराष्‍ट्र के सीएम

कांग्रेस और एनसीपी ने इससे पहले अपने-अपने कोटा से एक-एक सीट राजू शेट्टी के नेतृत्व वाली एसएसएस को देने का फैसला किया था. इसी के तहत हत्कानान्गले सीट एनसीपी कोटा से और सांगली सीट कांग्रेस कोटा से एसएसएस को दी गई है.

भारतीय ट्राइबल पार्टी 6 राज्‍यों और 2 केंद्र शासित प्रदेश समेत लड़ेगी लोकसभा चुनाव

अगले महीने होने वाले लोकसभा चुनाव में शेट्टी हत्कानान्गले सीट से चुनाव लड़ेंगे. पार्टी सूत्रों ने बताया कि पूर्व केंद्रीय मंत्री प्रतीक पाटिल ने सांगली सीट एसएसएस को दिए जाने के विरोध में पिछले सप्ताह कांग्रेस से इस्तीफा दे दिया था. महाराष्ट्र में लोकसभा की 48 सीटें हैं और यहां चार चरण में 11, 18, 23 और 29 अप्रैल को मतदान होगा. मतगणना 23 मई को होगी.