नई दिल्ली: कांग्रेस ने दावा किया कि दिल्ली में उसका सीधा मुकाबला सिर्फ बीजेपी से है और आम आदमी पार्टी (आप) मुकाबले में कहीं नहीं है. पार्टी के दिल्ली प्रभारी पीसी चाको ने यह भी आरोप लगाया कि दिल्ली में गठबंधन नहीं होने के लिए सिर्फ और सिर्फ आप संयोजक अरविंद केजरीवाल जिम्मेदार हैं. चाको ने बृहस्पतिवार को मीडियाकर्मियों से कहा, दिल्ली में कांग्रेस का मुकाबला भाजपा से है. आम आदमी पार्टी मुकाबले में नहीं हैं.

गठबंधन नहीं हो पाने के सवाल पर उन्होंने आरोप लगाया, गठबंधन नहीं होने के लिए सिर्फ और सिर्फ केजरीवाल जिम्मेदार हैं. राहुल गांधी जी ने एक फार्मूला दिया था, लेकिन आप ने उसे नहीं माना. दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी की अध्यक्ष शीला दीक्षित ने उम्मीद जताई कि कांग्रेस यह चुनाव पूरी एकजुटता से लड़ेगी और सभी सात सीटों पर जीत दर्ज करेगी. दिल्ली में कांग्रेस के सातों उम्मीदवार गुरुवार को एकसाथ मीडिया के सामने रूबरू हुए.

कांग्रेस ने पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित को उत्तर पूर्वी दिल्ली, प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पूर्व अध्यक्ष अजय माकन को नई दिल्ली, जेपी अग्रवाल को चांदनी चौक, राजेश लिलोठिया को उत्तर-पश्चिम दिल्ली, मुक्केबाज विजेंद्र सिंह को दक्षिणी दिल्ली, महाबल मिश्रा को पश्चिमी दिल्ली और अरविंदर सिंह लवली को पूर्वी दिल्ली से उम्मीदवार बनाया है.