नई दिल्ली. लोकसभा चुनाव के सातों चरणों का मतदान पूरा होने के बाद आए एग्जिट पोल (Exit Poll) के अनुमानों को लेकर सत्ताधारी और विपक्षी दलों के बीच तीखी बयानबाजी जारी है. भाजपा और उसके सहयोगी दल जहां एग्जिट पोल के आंकड़ों को सही ठहरा रहे हैं, वहीं कांग्रेस समेत अन्य विपक्षी पार्टियां इसे खारिज कर रही हैं. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शशि थरूर (Shashi Tharoor) ने एग्जिट पोल के आंकड़ों को साफ तौर पर गलत करार दिया है. अपनी बात को साबित करने के लिए उन्होंने ऑस्ट्रेलिया में हुए चुनावों के दौरान आए एग्जिट पोल के आंकड़ों को रखा है. ऑस्ट्रेलिया में हुए चुनाव को लेकर 4 दर्जन से ज्यादा एग्जिट पोल आए थे, लेकिन सभी के आंकड़े गलत साबित हुए हैं. ममता बनर्जी ने भी इन अनुमानों को गलत बताया है.

Poll Of Exit Polls: फिर एक बार मोदी सरकार, सीटें जा सकती हैं 300 पार

कांग्रेस के शशि थरूर ने दावा किया कि एग्जिट पोल गलत होते हैं. उन्होंने अपनी बात सही साबित करने के लिए ऑस्ट्रेलिया के चुनाव का हवाला दिया जहां कई एग्जिट पोल गलत साबित हुए. रविवार को सातवें चरण के मतदान के तुरंत बाद आए एग्जिट पोल के ऊपर थरूर ने प्रतिक्रिया दी है. टि्वटर पर किए गए अपने पोस्ट में शशि थरूर ने कहा, ‘मैं पूरे विश्वास के साथ कहता हूं कि एग्जिट पोल गलत होते हैं. ऑस्ट्रेलिया में चुनावों के बाद 56 अलग-अलग एजेंसियों ने एग्जिट पोल के आंकड़े जारी किए, लेकिन सभी गलत साबित हुए हैं. भारत में भी कई लोग चुनाव के बाद सर्वे करने पहुंचे लोगों को सच्चाई नहीं बताते हैं. सरकार गठन करने को लेकर ऐसे पूर्वानुमान सही नहीं हैं. इसलिए हमें 23 मई का इंतजार करना चाहिए, जिस दिन लोकसभा चुनाव के सही परिणाम सामने आएंगे.’

इधर, एग्जिट पोल पर भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने उत्साहित प्रतिक्रिया दी है. पार्टी ने कहा है कि इससे पीएम नरेंद्र मोदी के पक्ष में माहौल का पता चलता है. चुनाव परिणाम की घोषणा से पहले आए विभिन्न एग्जिट पोल में मौजूदा राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA Government) सरकार की वापसी का पूर्वानुमान जताया गया है. भाजपा के प्रवक्ता जी.वी.एल. नरसिम्हा राव ने कहा कि लोगों ने मोदी के अच्छे प्रशासन को पुरस्कार दिया है. उन्होंने कहा, ‘‘एग्जिट पोल से नरेंद्र मोदी के नेतृत्व के लिए बेहद सकारात्मक मतदान होने के स्पष्ट संकेत मिलते हैं. मोदी ने अतुल्य समर्पण से देश की सेवा की है. लोग अच्छे प्रशासन को पुरस्कार देते हैं, यह एक बार फिर से उत्साहजनक जनमत से साबित हुआ है. यह बुराइयां करने वाले उस विपक्ष को तमाचा है जो आधारहीन आरोप लगाता है और झूठ बोलता है.’’

Exit Poll 2019: यूपी में आए रुझानों से भाजपा में खुशी की लहर, विपक्ष को 23 का इंतजार

एग्जिट पोल को लेकर कांग्रेस नेता शशि थरूर के बयान से उलट, पार्टी के सहयोगी दल नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला ने इन आंकड़ों के सही होने की संभावना जताई है. जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने कहा कि सारे एक्जिट पोल गलत नहीं हो सकते हैं. हालांकि उन्होंने भी सबको 23 मई तक इंतजार करने की सलाह दी है. अब्दुल्ला ने कहा, ‘‘सारे एक्जिट पोल गलत नहीं हो सकते हैं. यह टीवी बंद करने, सोशल मीडिया से लॉग आउट करने का समय है तथा यह देखना है कि क्या 23 मई के बाद दुनिया अपनी धुरी पर अभी भी घूम रही है.’’

इधर, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री एवं तृणमूल कांग्रेस की सुप्रीमो ममता बनर्जी ने एक्जिट पोल को “अटकलबाजी” करार देते हुए कहा कि उन्हें ऐसे सर्वेक्षणों पर भरोसा नहीं क्योंकि इस “रणनीति” का इस्तेमाल ईवीएम में “गड़बड़ी” करने के लिए किया जाता है. उन्होंने ट्वीट किया, “मैं एक्जिट पोल के कयासों पर भरोसा नहीं करती. यह रणनीति अटकलबाजी के जरिए हजारों ईवीएम को बदलने या उनमें हेरफेर करने के लिए प्रयुक्त होती है. मैं सभी विपक्षी पार्टियों से एकजुट, मजबूत और साहसी रहने की अपील करती हूं.” कांग्रेस के प्रवक्ता संजय झा ने कहा कि शांत मतदाता ही 23 मई को राजा साबित होंगे. भाकपा के डी राजा ने भी पूर्वानुमान को खारिज करते हुए कहा कि ये सिर्फ ट्रेंड भर हैं.

(इनपुट – एजेंसी)

लोकसभा चुनाव से जुड़ी खबरों के लिए पढ़ते रहें India.com