नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव के बीच नरेंद्र मोदी के जीवन पर फिल्म आधारित ‘पीएम नरेंद्र मोदी’ की रिलीज को लेकर कांग्रेस परेशानी में नजर आ रही है. पार्टी को इस समय फिल्‍म की रिलीज से इसका असर चुनाव परिणामों पर पड़ने की आशंका है. कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जीवन पर आधारित फिल्म ‘पीएम नरेंद्र मोदी’ के लोकसभा चुनाव से पहले रिलीज पर रोक लगाने की मांग करते हुए सोमवार को चुनाव आयोग का रुख किया है. Also Read - Bihar Opinion Poll: बिहार में किसकी बनेगी सरकार? जानिये क्या कहता है ओपिनियन पोल

बता दें कि विवेक ओबरॉय अभिनीत ‘पीएम नरेंद्र मोदी’ को आगामी पांच अप्रैल को रिलीज किया जाना है. फिल्म के निर्देशक उमंग कुमार हैं तथा इसके निर्माता सुरेश ओबरॉय एवं संदीप सिंह हैं. आयोग के समक्ष अपना प्रतिवदेन देने के बाद कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने कहा कि इस फिल्म को बनाने और चुनाव से ऐन पहले इसे रिलीज का मकसद राजनीतिक फायदा उठाना है. Also Read - केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले ने कहा- कमलनाथ ने दलितों का अपमान किया, पार्टी से निकाले कांग्रेस

एक सवाल के जवाब में सिब्‍बल ने दावा किया, इस फिल्म का विषय वस्तु, समय और मकसद सब राजनीतिक है. सिब्बल ने कहा, हम चाहते हैं कि हमारे प्रतिवदेन पर आयोग कारण के साथ आदेश पारित करे ताकि यह पता चल सके कि प्रतिवदेन को क्यों खारिज किया गया है या फिर क्यों स्वीकार किया गया है.

सिब्बल ने मीडियाकर्मियों से कहा, हमने चुनाव आयोग से कहा है कि प्रधानमंत्री के जीवन पर एक फिल्म बनी है और इसे कुछ चुनाव से कुछ दिनों पहले रिलीज किया जा रहा है. इसका मकसद राजनीतिक फायदा उठाना है. इस फिल्म को बनाने वाले लोगों का ताल्लुक भाजपा से है.