PM Modi Swearing-in: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के शपथ ग्रहण समारोह के बृहद पैमाने पर आयोजित होने के कराण आज शाम राजधानी दिल्ली खासकर मध्य दिल्ली में यतायात व्यवस्था पटरी से उतर सकती है. इस शपथ ग्रहण समारोह में 8000 हजार से अधिक मेहमानों को आमंत्रित किया गया है. ऐसे में मध्य दिल्ली और नई दिल्ली जिला के इलाकों में व्यापक स्तर पर वीवीआईपी मूवमेंट को देखते हुए कई सड़कें शाम चार बजे ही बंद कर दी जाएंगी. ऐसे में दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने लोगों से अपील की है कि वे नई दिल्ली क्षेत्र में प्रवेश करने से बचें. ऐसा होने पर उनको काफी परेशानी हो सकती है.

शपथ ग्रहण समारोह में कई देशों के राष्ट्राध्यक्षों और तमाम राजदूतों व उच्चायुक्तों के शामिल होने से दिल्ली पुलिस पर सुरक्षा का भी अतिरिक्त दबाव है. ऐसे में इन इलाकों में शपथ ग्रहण के लिए 10 हजार से अधिक जवानों की तैनाती की गई है. एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि कई महत्वपूर्ण जगहों पर त्वरित प्रतिक्रिया टीमों को तैनात किया गया है और महत्वपूर्ण भवनों पर अचूक निशानेबाजों को तैनात किया गया है.

उन्होंने बताया, ‘‘शपथ ग्रहण समारोह को देखते हुए दिल्ली पुलिस और सुरक्षा बलों के 10,000 जवानों को तैनात किया गया है.’’ एक अन्य अधिकारी ने बताया कि करीब दो हजार जवानों को मोदी और विदेशी मेहमानों के आवागमन के मार्ग पर तैनात किया गया है.

ये मार्ग रहेंगे बंद
विजय चौक से राष्ट्रपति भवन (राजपथ), विजय चौक और उसके आसपास के इलाके, नॉर्थ और साउथ फाउंटेंन, साउथ एवेन्यू, नॉर्थ एवेन्यू, दारा-शिकोह रोड और चर्च रोड- ये मार्ग शाम 4 से 9 बजे तक बंद रहेंगे. इसके अलावे अकबर रोड, राजपथ, तीन मूर्ति मार्ग, कृष्ण मेनन मार्ग, पंडित पंत मार्ग, तालकटोरा रोड, गुरुद्वारा रकाब गंज रोड, त्यागराज मार्ग, एसपी मार्ग, कुशक मार्ग, के. कामराज मार्ग, राजाजी मार्ग, शांति पथ, रायसीना रोड और मोतीलाल नेहरू मार्ग पर भी ट्रैफिक बाधित रहेगा.

मोदी और उनके मंत्रिमंडल के सदस्यों का राष्ट्रपति भवन के प्रांगण में शाम सात बजे शपथ लेने का कार्यक्रम है. समारोह से एक दिन पहले जारी एक यातायात परामर्श में कहा गया है कि बृहस्पतिवार को शाम चार बजे से रात नौ बजे तक नई दिल्ली जिले में कई सड़कें बंद रहेंगी और मोटर वाहन चालक इन सड़कों पर आने से बचें.

यातायात को लिए विशेष इंतजाम किए गए हैं और यातायात परामर्श जारी किया गया है. इसमें कहा गया है कि आमंत्रित लोगों और जनता के लिए निर्देश संकेतक लगाए गए हैं. सभी मोटर वाहन चालकों को ड्यूटी पर तैनात यातायात पुलिस के निर्देशों का पालन करने की सलाह दी जाती है.