नई दिल्ली. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और मध्यप्रदेश की भोपाल लोकसभा सीट से पार्टी के प्रत्याशी दिग्विजय सिंह (Digvijay Singh) अपने बयानों को लेकर अक्सर चर्चा में रहते हैं. लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election 2019) के प्रचार के क्रम में भी दिग्विजय सिंह के बयान मीडिया की सुर्खियों में रहते हैं. इसी क्रम में बीते सोमवार को दिग्विजय सिंह ने भोपाल लोकसभा सीट से भारतीय जनता पार्टी (BJP) की उम्मीदवार प्रज्ञा सिंह ठाकुर को लेकर मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर हमला किया. दिग्विजय ने पूर्व सीएम के बयान को आधार बनाते हुए कहा कि मेरा नाम लेने पर उन्हें नहाना पड़ता है, लेकिन क्या प्रज्ञा ठाकुर का प्रचार करने के बाद भी शिवराज सिंह को नहाना पड़ता है.

लोकसभा चुनाव से जुड़ी खबरों के लिए पढ़ते रहें India.com

दिग्विजय सिंह ने मध्यप्रदेश के राजगढ़ में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए शिवराज सिंह चौहान पर हमला किया. उन्होंने कहा, ‘आजकल वो (पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान) कहते हैं कि दिग्विजय सिंह का नाम मेरे मुंह से नहीं निकलना चाहिए, नहीं तो नहाना पड़ेगा. लेकिन प्रज्ञा (भोपाल से भाजपा प्रत्याशी) का प्रचार करने के बाद तो उनको नहाना नहीं पड़ता.’ दिग्विजय सिंह ने अपने इस बयान के जरिए एक साथ शिवराज सिंह चौहान और प्रज्ञा ठाकुर, दोनों पर निशाना साधा है.

मध्यप्रदेश की राजनीति में बड़ी हैसियत रखने वाले दिग्विजय सिंह केंद्र की भाजपा सरकार और उसके नेताओं पर लगातार हमले करते रहे हैं. इन दिनों अपने आधिकारिक टि्वटर हैंडल पर वे भाजपा सरकार से सवाल भी पूछ रहे हैं. इन सवालों में ज्यादातर प्रश्न देश की अर्थव्यवस्था और भाजपा सरकार की नीतियों से जुड़े होते हैं. आपको बता दें कि दिग्विजय सिंह पहली बार भोपाल लोकसभा सीट से चुनाव लड़ रहे हैं. इसके पहले बतौर मुख्यमंत्री वे प्रदेश में राघोगढ़ विधानसभा सीट से चुनाव लड़ते रहे हैं.