भोपाल: कांग्रेस के सीनियर नेता ने मध्‍य प्रदेश में 20 से ज्‍यादा सीटें जीतने का दावा किया है. मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने बुधवार को दावा किया कि अप्रैल-मई में होने वाले लोकसभा चुनाव में कांग्रेस राज्य की 29 सीटों में से 20 से अधिक सीटों पर जीत हासिल करेगी. भोपाल लोकसभा सीट से कांग्रेस का प्रत्याशी बनाए जाने के बाद पहली बार भोपाल पहुंचे दिग्विजय ने एक सवाल के जवाब में मीडिया को बताया, कांग्रेस ने मध्य प्रदेश की तीन सीटों भोपाल, इंदौर एवं विदिशा पर साल 1984 में हुए लोकसभा चुनाव में जीत दर्ज की थी. उसके बाद हम इन तीन सीटों पर जीत दर्ज नहीं कर पाए हैं. इसलिए यदि हम इन तीन सीटों पर जीत दर्ज कर लेते हैं, तो पार्टी मध्य प्रदेश की 20 से अधिक सीटों पर निश्चित रूप से विजय हासिल करेगी.

बीजेपी की कोशिश हिंदू-मुसलमान में झगड़ा कराने की: दिग्विजय सिंह

साल 2014 में हुए लोकसभा चुनाव में कांग्रेस ने मध्य प्रदेश की 29 सीटों में से केवल दो सीटों गुना एवं छिन्दवाड़ा में ही जीत हासिल की थी, जबकि भाजपा 27 सीटों पर जीती थी.

सिंह ने कहा कि मैं भोपाल सीट से अपना नामांकन पत्र दाखिल करने से पहले भोपाल के विकास पर एक दस्तावेज पेश करूंगा. भोपाल लोकसभा सीट पर भाजपा द्वारा वोटों का ध्रुवीकरण करने के बारे में पूछे गए एक अन्य सवाल के जवाब में 16 साल बाद चुनाव लड़ रहे दिग्विजय ने बताया, भाजपा के पास ध्रुवीकरण करने के अलावा कोई विकल्प नहीं है.

दिग्‍विजय ने अपने पिता पर हिंदू महासभा का सदस्य होने के आरोप लगने पर पूछे गए सवाल पर उन्होंने कहा, इस तरह की गलत जानकारी सर्कुलेट की जा रही है. मेरे पिताजी ने वर्ष 1952 में निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़ा था. वह कांग्रेस के सदस्य थे और वर्ष 1940 से खादी पहना करते थे.