नई दिल्ली: समाजवादी पार्टी के नेता आजम खान पर उत्तर प्रदेश में चुनाव आयोग के अधिकारियों के खिलाफ भड़काऊ बयान देने और सांप्रदायिक टिप्पणियां करने के मामले में मंगलवार को 48 घंटे के लिए प्रचार करने पर पाबंदी लगा दी गई. आयोग ने इस महीने आजम पर दूसरी बार इस तरह का प्रतिबंध खान पर लगाया है. यह पाबंदी बुधवार सुबह 6 बजे से प्रभाव में आएगी.

बता दें कि इससे पहले उन्हें बीजेपी उम्मीदवार जया प्रदा के खिलाफ आपत्तिजनक बयान देने के लिए 72 घंटे तक प्रचार करने से रोक दिया गया था. उन्हें पिछले कुछ दिन में उत्तर प्रदेश में अनेक जगहों पर भड़काऊ भाषण देने के लिए कारण बताओ नोटिस दिये जा चुके हैं.

चुनाव आयोग ने एक बार खान के बयान का उदाहरण देते हुए बताया कि सपा नेता ने कहा कि ‘फासीवादी उन्हें मारने की कोशिश कर रहे हैं.’ एक अन्य मौके पर उन्होंने कथित तौर पर दावा किया कि प्रधानमंत्री ने मुस्लिमों को मारा. उन्होंने ऐसे अनेक बयान दिए. चुनाव आयोग ने सपा नेता खां पर निर्वाचन अधिकारियों को धमकाने, सांप्रदायिक टिप्पणियां करने के लिए 48 घंटे का नया प्रतिबंध लगाया है.