बीजेपी से अब तक टिकट घोषित नहीं, लेकिन पहले ही सुमित्रा महाजन ने संभाला चुनावी मोर्चा

इंदौर से 8 बार जीतने वाली ताई भाजपा कार्यकर्ताओं से कह रहीं मोदी को दोबारा पीएम बनाने के लिए पूरी ताकत से चुनावी मैदान में उतर जाएं

Updated: March 28, 2019 4:11 PM IST

By India.com Hindi News Desk | Edited by Laxmi Narayan Tiwari

बीजेपी से अब तक टिकट घोषित नहीं, लेकिन पहले ही सुमित्रा महाजन ने संभाला चुनावी मोर्चा
Lok Sabha Speaker Sumitra Mahajan (File photo)

इंदौर: मध्‍य प्रदेश में बीजेपी का मजबूत गढ़ कही जाने वाली इंदौर लोकसभा सीट के लिए पार्टी ने अभी अपने उम्मीदवार की घोषणा नहीं की है. वहीं, चुनावी मैदान में मौजूदा सांसद और लोकसभा अध्‍यक्ष सुमित्रा ताई की कार्यकर्ताओं के बीच की सक्रियता से कई सियासी कयास लगाए जा सकते हैं. दअरसल, सीट से लगातार आठ बार जीत का रिकॉर्ड बनाने वाली लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने एक बार फिर से बीजेपी कार्यकर्ताओं के बीच चुनावी मोर्चा संभाल लिया है. वे पार्टी कार्यकर्ताओं से अपील कर रही हैं कि वे नरेंद्र मोदी को दोबारा पीएम बनाने के लिए पूरी ताकत से चुनावी मैदान में उतर जाएं. वहीं, कांग्रेस ने अभी तक इंदौर से अपने उम्‍मीदवार के नाम की घोषणा नहीं की है. इस सीट पर कांग्रेस लगातार पिछले 30 साल से हार का मुंह देख रही है.

Also Read:

मिशन शक्ति पर शिवसेना ने कहा, मोदी है तो मुमकिन है, जमीन पर भी और आसमान में भी

बीजेपी के एक प्रवक्ता ने गुरुवार को बताया कि “ताई” इंदौर सीट पर 19 मई को होने वाले लोकसभा चुनावों के मद्देनजर शहर के विभिन्न वॉर्डों में पहुंचकर पार्टी कार्यकर्ताओं की बैठकों में शामिल हो रही हैं. इस दौरान वह बीजेपी कार्यकर्ताओं से अपील कर रही हैं कि वे नरेंद्र मोदी को दोबारा प्रधानमंत्री बनाने के लिए पूरी ताकत से चुनावी मैदान में उतर जाएं.

साल 1989 से लोकसभा में इंदौर क्षेत्र की सतत नुमाइंदगी कर रहीं महाजन 12 अप्रैल को 76 साल की होने वाली हैं. लिहाजा सियासी गलियारों में ऐसी अटकलें भी हैं कि इस बार उन्हें उम्र का हवाला देकर बीजेपी चुनाव में टिकट काट सकती है. इंदौर से लगातार 9वीं बार महाजन की उम्मीदवारी को लेकर फिलहाल रहस्य बना है लेकिन कांग्रेस इस बारे में भाजपा पर निशाना साधने से नहीं चूक रही है.

एमपी में चुनाव से पहले बीजेपी की डैमेज कंट्रोल की कोशिश, अटल के भांजे को मनाने में जुटी पार्टी

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता केके मिश्रा ने मीडियाकर्मियों से कहा, “ताई का राजनीतिक कद बहुत बड़ा है. लेकिन भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व ने इंदौर से उनकी उम्मीदवारी को लेकर अब तक कोई घोषणा नहीं की है. यह केवल ताई का ही नहीं, बल्कि देवी अहिल्या बाई के इस ऐतिहासिक शहर और इसकी जनता का भी अपमान है.”

मेरठ में मोदी ने कहा- हमारी सरकार ने जमीन-आसमान-अंतरिक्ष में किया सर्जिकल स्ट्राइक

बहरहाल, खुद कांग्रेस ने भी इंदौर क्षेत्र से अपने उम्मीदवार की अब तक घोषणा नहीं की है, जहां उसे बीते 30 साल में लगातार चुनावी पराजय का स्वाद चखना पड़ा है. कांग्रेस के उम्‍मीदवार की घोषणा नहीं किए जाने के सवाल पर मिश्रा ने कहा, “हम इंतजार कर रहे हैं कि इंदौर से बीजेपी का चुनावी उम्मीदवार 75 साल से अधिक उम्र का होगा या वह इससे कम उम्र का होगा? हम इंदौर में बीजेपी से बेहतर उम्मीदवार उतारेंगे और इस पार्टी के तथाकथित सूरमाओं को चुनावों में धूल चटा देंगे. उन्होंने कहा, सूबे के मुख्यमंत्री कमलनाथ की जेब में रखी पर्ची में इंदौर लोकसभा क्षेत्र के कांग्रेस उम्मीदवार का नाम लिखा है.

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. India.Com पर विस्तार से पढ़ें देश की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

Published Date: March 28, 2019 4:09 PM IST

Updated Date: March 28, 2019 4:11 PM IST