नई दिल्ली. चुनाव आयोग आगामी लोकसभा चुनाव की तारीखें जल्द घोषित करेगा जो अप्रैल-मई में सात-आठ चरणों में संपन्न हो सकते हैं. सूत्रों ने गुरुवार को यह जानकारी दी. सूत्रों ने कहा कि चुनाव आयोग 17वीं लोकसभा के चुनाव कराने के लिए साजो-सामान की तैयारियां पूरी करने के अंतिम चरण में है. चुनाव के विस्तृत कार्यक्रम की घोषणा इस सप्ताहांत तक या अगले सप्ताह की शुरुआत तक हो सकती है. मौजूदा लोकसभा का कार्यकाल तीन जून को समाप्त हो रहा है.

लोकसभा चुनाव 2019: 8 राज्यों में बीजेपी-कांग्रेस में सीधी टक्कर, जानें राज्यों का क्या है समीकरण

चुनाव की तारीखों की घोषणा के बाद अगले सप्ताह पहले और दूसरे चरण के मतदान के लिए चुनाव पर्यवेक्षकों की बैठक होगी. चुनाव आयोग के एक वरिष्ठ पदाधिकारी ने कहा कि आयोग किसी भी दिन तारीखों की घोषणा करने के लिए तैयार है और यह एलान इस सप्ताहांत तक या ज्यादा से ज्यादा मंगलवार तक हो सकता है. सूत्रों के अनुसार पहले चरण के मतदान के लिए अधिसूचना मार्च के आखिर तक जारी हो सकती है और इसके लिए मतदान अप्रैल के पहले सप्ताह में होने की संभावना है.

अगर हैं शाकाहारी, तभी चुनाव में टिकट देगी ये पार्टी, बोले- मांसाहारी राष्ट्र सेवा नहीं कर सकता

पूरी संभावना है कि आयोग पुरानी परंपरा की तरह आंध्र प्रदेश, ओडिशा, सिक्किम और अरुणाचल प्रदेश के विधानसभा चुनाव भी लोकसभा चुनाव के साथ करा सकता है. जम्मू कश्मीर विधानसभा भंग हो चुकी है, इसलिए आयोग मई में समाप्त हो रही छह महीने की अवधि के अंदर यहां भी नए सिरे से चुनाव कराने के लिए बाध्य है. एक राय है कि जम्मू कश्मीर विधानसभा चुनाव लोकसभा चुनाव के साथ होंगे, लेकिन भारत-पाकिस्तान सीमा पर तनाव बढ़ने के कारण राज्य के जटिल सुरक्षा हालात को मद्देनजर रखते हुए ही फैसला किया जाएगा.

(इनपुट – एजेंसी)