नई दिल्ली: निर्वाचन आयोग 19 मई को लोकसभा चुनाव के अंतिम चरण के लिए पर्यवेक्षकों और राज्य प्रमुख निर्वाचन अधिकारियों के साथ बुधवार को समीक्षा बैठक करेगा. यह समीक्षा बैठक वीडियो कांफ्रेंस के जरिए होगी. इससे एक दिन पहले ही भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के रोड शो के दौरान कोलकाता की गलियों में भाजपा और तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं के बीच हिंसक झड़पें हुई थीं. Also Read - School Reopen in West Bengal Latest Update: पश्चिम बंगाल में कब खुलेंगे कॉलेज, विश्वविद्यालय? शिक्षा मंत्री ने दिया बड़ा बयान

Also Read - Latest Railways News: रेलवे इस राज्‍य में 2 दिसंबर से चलाएगा 54 ट्रेनें

कोलकाता हिंसा पर अमित शाह ने कहा- CRPF नहीं होती तो मेरा बचना मुश्किल था Also Read - West Bengal Latest News: 50 से ज्‍यादा TMC नेता बीजेपी में होंगे शामिल, भाजपा सांसद का दावा

निर्वाचन आयोग के एक अधिकारी ने कहा कि 19 मई को जिन 59 संसदीय निर्वाचन क्षेत्रों के लिए मतदान होगा उनमें नौ निर्वाचन क्षेत्र पश्चिम बंगाल के हैं. ऐसे में यह स्वाभाविक है कि इस बैठक में राज्य के पर्यवेक्षक एवं चुनाव अधिकारी भाग लेंगे. हालांकि उन्होंने यह कहने से इनकार कर दिया कि बैठक में पश्चिम बंगाल पर विशेष रूप से ध्यान केंद्रित किया जाएगा या नहीं.

ऐसा कैसे हो सकता है कि राष्ट्रीय सुरक्षा मुद्दा न हो: पीएम मोदी

तृणमूल ने इस मामले पर आयोग के साथ बैठक की मांग की है, वहीं भाजपा के प्रतिनिधिमंडल ने निर्वाचन आयोग से मंगलवार को अपील की कि वह पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के राज्य में चुनाव प्रचार करने पर प्रतिबंध लगाए और आरोप लगाया कि राज्य में ‘संवैधानिक व्यवस्था’ चरमरा गई है.

लोकसभा चुनाव से जुड़ी खबरों के लिए पढ़ते रहें India.com