नई दिल्ली: निर्वाचन आयोग 19 मई को लोकसभा चुनाव के अंतिम चरण के लिए पर्यवेक्षकों और राज्य प्रमुख निर्वाचन अधिकारियों के साथ बुधवार को समीक्षा बैठक करेगा. यह समीक्षा बैठक वीडियो कांफ्रेंस के जरिए होगी. इससे एक दिन पहले ही भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के रोड शो के दौरान कोलकाता की गलियों में भाजपा और तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं के बीच हिंसक झड़पें हुई थीं.

कोलकाता हिंसा पर अमित शाह ने कहा- CRPF नहीं होती तो मेरा बचना मुश्किल था

निर्वाचन आयोग के एक अधिकारी ने कहा कि 19 मई को जिन 59 संसदीय निर्वाचन क्षेत्रों के लिए मतदान होगा उनमें नौ निर्वाचन क्षेत्र पश्चिम बंगाल के हैं. ऐसे में यह स्वाभाविक है कि इस बैठक में राज्य के पर्यवेक्षक एवं चुनाव अधिकारी भाग लेंगे. हालांकि उन्होंने यह कहने से इनकार कर दिया कि बैठक में पश्चिम बंगाल पर विशेष रूप से ध्यान केंद्रित किया जाएगा या नहीं.

ऐसा कैसे हो सकता है कि राष्ट्रीय सुरक्षा मुद्दा न हो: पीएम मोदी

तृणमूल ने इस मामले पर आयोग के साथ बैठक की मांग की है, वहीं भाजपा के प्रतिनिधिमंडल ने निर्वाचन आयोग से मंगलवार को अपील की कि वह पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के राज्य में चुनाव प्रचार करने पर प्रतिबंध लगाए और आरोप लगाया कि राज्य में ‘संवैधानिक व्यवस्था’ चरमरा गई है.

लोकसभा चुनाव से जुड़ी खबरों के लिए पढ़ते रहें India.com