लखनऊ: उत्तर प्रदेश में लोकसभा चुनाव के 5वें चरण में 14 सीटों पर सोमवार को सुबह से मतदान जारी है. दोपहर एक बजे तक इन क्षेत्रों में करीब 35.43 प्रतिशत मतदाताओं ने वोट डाले. दोपहर एक बजे तक धौरहरा में 38.63 प्रतिशत, सीतापुर में 38.40, मोहनलालगंज में 37.38, लखनऊ में 33.14, रायबरेली में 32.60, अमेठी में 33.94, बांदा में 40.39, फतेहपुर में 33.17, कौशांबी में 32.57, बाराबंकी में 35.50, फैजाबाद में 35.57, बहराइच में 35.60, कैसरगंज में 34.84 और गोंडा में 34.77 प्रतिशत मतदान हुआ है.

मध्य प्रदेश में 7 लोकसभा सीटों के लिए दोपहर 1:00 बजे तक तक 43 प्रतिशत वोटिंग हुई

सुबह राजधानी लखनऊ में पहले मतदान करने वालो में गृह मंत्री राजनाथ सिंह, बसपा प्रमुख मायावती, उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा, पुलिस महानिदेशक ओ पी सिंह, प्रमुख सचिव सूचना अवनीश अवस्थी शामिल रहे.

पांचवें चरण में धौरहरा, सीतापुर, मोहनलालगंज (सुरक्षित), लखनऊ, बांदा, फतेहपुर, कौशाम्बी (सुरक्षित), बाराबंकी (सुरक्षित), फैजाबाद, बहराइच (सुरक्षित), कैसरगंज और गोंडा सीटों पर मतदान हो रहा है. सपा-बसपा-रालोद गठबंधन ने अमेठी और रायबरेली सीटों पर अपने प्रत्याशी नहीं उतारे हैं.

पांचवें चरण के चुनाव में केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह (लखनऊ), कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (अमेठी), यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी (रायबरेली), केन्द्रीय मंत्री स्मृति ईरानी (अमेठी), पूर्व केंद्रीय मंत्री जितिन प्रसाद (धौरहरा) और पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष निर्मल खत्री (फैजाबाद) जैसे छत्रपों की प्रतिष्ठा दांव पर है.

राजनाथ लखनऊ सीट से एक बार फिर संसद पहुंचने की कोशिश में हैं, वहीं उनकी मंत्रिमडलीय सहयोगी स्मृति ईरानी नेहरू—गांधी परिवार के दुर्ग यानी अमेठी को भेदने के लिये पूरा जोर लगा रही हैं.

पूर्व केंद्रीय मंत्री जितिन प्रसाद एक बार फिर धौरहरा सीट से मैदान में हैं. इसी सीट से कभी चंबल के कुख्यात डकैत रहे मलखान सिंह को प्रगतिशील समाजवादी पार्टी ने अपना उम्मीदवार बनाया है.

चुनाव कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार, मतदान शांतिपूर्ण मतरीके से चल रहा है. कहीं से किसी अप्रिय घटना की सूचना नहीं है. कुछ जगहों पर सुबह ईवीएम में खराबी आई थी जिसे तुरंत दुरुस्त कर लिया गया. 2014 के लोकसभा चुनाव में भाजपा ने 14 में से 12 सीटें जीती थीं. जबकि अमेठी और रायबरेली सीटें कांग्रेस के खाते में गई थीं.