नई दिल्ली. लोकसभा चुनाव 2019 में आंध्र प्रदेश में चंद्रबाबू नायडू और वाईएसआर कांग्रेस के बीच कड़ा मुकाबला देखने को मिल सकता है. तटीय राज्य में इन दोनों क्षेत्रीय दलों के बीच जहां विधानसभा चुनाव में भी कड़ा मुकाबला देखने को मिला है, वहीं लोकसभा की सीटों पर भी दोनों दलों में तीखी लड़ाई है. आईएएनएस-सीवोटर के एग्जिट पोल के अनुसार, आंध्र प्रदेश में लोकसभा चुनाव में तेलुगू देशम पार्टी (TDP) को 14 सीटें मिल सकती हैं, जबकि वाईएसआर (YSR Congress) को 11 सीटें मिलने की संभावना है.

Poll Of Exit Polls: फिर एक बार मोदी सरकार, सीटें जा सकती हैं 300 पार

पिछले लोकसभा चुनाव के मुकाबले तेदेपा प्रमुख को एक सीट की कमी देखने को मिलेगी, जबकि वाईएसआर की सीटों में काफी बढ़ोतरी हो सकती है. पिछले लोकसभा चुनाव 2014 में तेदेपा को 15 सीटें मिली थीं जबकि वाईएसआर को महज सात सीटों से संतोष करना पड़ा था. आईएएनएस-सीवोटर एग्जिट पोल के अनुमान के अनुसार, तेदेपा को 36.5 फीसदी वोट मिल सकता है जबकि जबकि वाईएसआर कांग्रेस को 34.9 फीसदी. चुनाव के नतीजे 23 मई को घोषित होंगे.

Exit Poll देखने वालों के लिए बड़े काम की खबर, जानिए एग्जिट व ओपिनियन पोल में अंतर

एग्जिट पोल में आंध्रप्रदेश में संप्रग और राजग को कोई सीट मिलने की संभावना नहीं जताई गई है. आपको बता दें कि विभिन्न सर्वेक्षण एजेंसियों के अनुमानों के मुताबिक केंद्र में एक बार फिर भाजपा के नेतृत्व वाली राजग सरकार के आने की उम्मीद है. Times Now-VMR ने राजग को 306 सीटें मिलने का अनुमान लगाया है. वहीं, रिपब्लिक भारत-जन की बात के अनुसार भाजपा और सहयोगी दल 305 सीटों के साथ केंद्र में सरकार बनाने जा रहे हैं. इसके अलावा रिपब्लिक भारत-सीवोटर के सर्वे के मुताबिक एनडीए को 542 में से 287 सीटों पर जीत मिलने का अनुमान है.

(इनपुट – एजेंसी)