श्रीनगर: नेशनल कांफ्रेंस के नेता फारूक अब्दुल्ला ने सोमवार को प्रतिष्ठित समझी जाने वाली श्रीनगर लोकसभा सीट से सोमवार को अपना नामांकन दाखिल किया. फारूक अपने बेटे व एनसी के उपाध्यक्ष उमर अब्दुल्ला के साथ यहां शहीदगंज इलाके स्थित चुनाव अधिकारी शाहिद इकबाल चौधरी के कार्यालय पहुंचे और अपना नामांकन पत्र दाखिल किया इस सीट पर आम चुनाव के दूसरे चरण में 18 अप्रैल को मतदान होगा. अब्दुल्ला इस सीट से मौजूदा सांसद भी हैं. फारूक श्रीनगर सीट से पुनर्निवाचित होने की उम्मीद लगाए हुए हैं. उन्हें कांग्रेस पार्टी का समर्थन प्राप्त है. पार्टी ने एनसी अध्यक्ष के खिलाफ श्रीनगर से अपना उम्मीदवार नहीं उतारने का फैसला किया है.

केंद्र में मंत्री रहे इस नेता ने कांग्रेस से तोड़े रिश्‍ते, दादा रह चुके हैं महाराष्‍ट्र के सीएम

बता दें कि उन्‍होंने कुछ ही दिन पहले श्रीनगर से अपने फिर से खड़े होने की बात कही थी. उन्‍होंने कांग्रेस से इस सीट समेत कुछ अन्‍य सीटों पर भी दावेदारी छोड़ने के लिए कहा था.

राशिद अल्वी ने लोकसभा चुनाव लड़ने से किया इनकार, कांग्रेस ने दूसरा उम्‍मीदवार घोषित किया

इस पूर्व मुख्यमंत्री ने बेहद सादे तरीके से अपना नामांकन दाखिल किया और तड़क भड़क से दूरी बनाए रखी. इस मौके पर उनके साथ बेटा नेशनल कॉन्‍फ्रेंस नेता उमर अब्दुल्ला और पार्टी के अन्य वरिष्ठ नेता मौजूद थे.

नितिन गडकरी ने नागुपर लोकसभा सीट से नामांकन पत्र दाखिल किया, बड़े जीत का दावा

श्रीनगर लोकसभा सीट का विस्तार तीन जिलों श्रीनगर, बडगाम और गंदेरबल में है और इस सीट के लिए 12,90,318 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे. इस सीट पर उनके अलावा पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) के अगा मोहसीन, पीपुल्स कॉन्फ्रेंस (पीसी) के इरफान रजा अंसारी और भारतीय जनता पार्टी के खालिद जहांगीर चुनाव लड़ रहे हैं.