जयपुर: राजस्‍थान में सत्‍ता खो चुकी बीजेपी को लोकसभा चुनाव के ऐन मौके पर ये झटका देने वाला वाकया है. बीजेपी के कभी दिग्‍गज नेता रहे घनश्‍याम तिवाड़ी समेत कई नेताओं ने कांग्रेस का हाथ थाम लिया और एक दर्जन निर्दलीय विधायक भी उसके समर्थन में आ गए हैं. भारत वाहिनी पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष घनश्याम तिवाडी और बसपा नेता डूंगरराम गेदर ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की मौजूदगी में पार्टी की सदस्यता ग्रहण की. वहीं, राजस्थान के 12 निर्दलीय विधायकों ने मंगलवार को कांग्रेस को समर्थन देने की घोषणा की. रामलीला मैदान में शक्ति प्रोजेक्ट संवाद कार्यक्रम में कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी की मौजूदगी में ये लोग कांग्रेस से जुड़े.

राजस्थानः कभी थे भाजपा के कद्दावर ब्राह्मण नेता, अब कांग्रेस में शामिल होंगे

इस मौके पर निर्दलीय विधायकों रमीला खडिया, सुरेश टांक, बाबूलाल नागर, कांतिलाल मीणा, लक्ष्मण मीणा, बलजीत यादव, रामकेश मीणा, संयम लोढा, महादेव सिंह खंडेला, खुशवीर सिंह, राजकुमार गौड व आलोक बेनीवाल ने कांग्रेस को समर्थन दिया.

ये सभी विधायक मंच पर मौजूद रहे और गांधी को साफा पहनाया। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि ये विधायक, एसोसिएट मेंबर के रूप में कांग्रेस सरकार का समर्थन करेंगे.

इसके साथ ही भारत वाहिनी पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष घनश्याम तिवाडी और बसपा के वरिष्ठ नेता डूंगाराम गेदर, भाजपा नेता सुरेन्द्र गोयल, जयपुर के मेयर विष्णु लाटा, जर्नादन गहलोत व पूसाराम चौधरी ने कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण की.