नई दिल्ली: क्रिकेटर से नेता बने भाजपा के गौतम गंभीर ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर ‘अभद्र पर्चे’ को लेकर निशाना साधते हुए कहा कि चुनाव आते-जाते रहेंगे लेकिन किसी को स्वविवेक नहीं खोना चाहिए. पूर्वी दिल्ली से आप (आम आदमी पार्टी) की उम्मीदवार आतिशी मार्लेना के खिलाफ एक ‘अभद्र पर्चा’ सामने आया था, जिसके लिए आप के नेता गंभीर पर आरोप लगा रहे थे.

 

भाजपा सांसद ने केजरीवाल पर हमला बोलते हुए कहा कि मेरे पास उनके लिए कोई शब्द नहीं हैं कि वह सिर्फ एक सीट जीतने के लिए इस तरह के आरोप लगा सकते हैं. आप एक चुनाव हार सकते हैं और आगे बढ़ सकते हैं लेकिन कोई स्वविवेक खोकर खुद के सामने कैसे खड़ा हो सकता है? उन्होंने कहा कि चुनाव आते-जाते रहेंगे लेकिन जिस दिन आप स्वविवेक खो बैठते हैं, आप सबकुछ खो बैठते हैं. भाजपा के दिल्ली इकाई कार्यालय में गंभीर मीडियाकर्मियों को यहां राष्ट्रीय राजधानी के अन्य नव-निर्वाचित सांसदों के साथ संबोधित कर रहे थे.

राहुल गांधी ने की इस्तीफे की पेशकश, लेकिन कार्य समिति ने ठुकराया: सुरजेवाला

दिल्ली सरकार के अंत की शुरुआत है लोकसभा परिणाम
दिल्ली भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी ने कहा कि पार्टी के उम्मीदवारों ने चुनाव में सकारात्मकता के साथ हिस्सा लिया और यह सकारात्मकता पार्टी के नेताओं और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से आयी. तिवारी ने कहा कि वह शुरुआत में डरे हुए थे क्योंकि उनके सामने दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस की दिग्गज नेता शीला दीक्षित खड़ी थी. हालांकि इस संवाददाता सम्मेलन में मीनाक्षी लेखी और रमेश बिधुड़ी मौजूद नहीं थे. चांदनी चौक के सांसद हर्षवर्धन ने कहा कि लोकसभा चुनाव का परिणाम आप और दिल्ली में इसकी सरकार के अंत की शुरुआत है.

राहुल गांधी ने की अध्यक्ष पद छोड़ने की पेशकश, कांग्रेस वर्किंग कमेटी नहीं हो रही तैयार