नई दिल्ली : टीम इंडिया के पूर्व दिग्गज खिलाड़ी गौतम गंभीर ने राजनीति में नई पारी की शुरुआत की. गंभीर शुक्रवार को भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुए. गंभीर से इस मसले पर कई बार सवाल किया गया था. लेकिन उन्होंने राजनीति में आने से मना कर दिया था. संभावना जताई जा रही है कि बीजेपी उन्हें लोक सभा चुनाव 2019 में दिल्ली से उम्मीदवार घोषित कर सकती है. दिलचस्प बात यह भी है कि उन्हें हाल ही में पद्मश्री अवॉर्ड से सम्मानित किया गया था.

गंभीर के बीजेपी में शामिल होने के बाद वित्तमंत्री अरुण जेटली ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की. इसमें उन्होंने गंभीर के बीजेपी में शामिल होने के बात का खुलासा किया. इस दौरान जेटली ने कहा कि गंभीर का इस्तेमाल पार्टी हित में होगा. अहम बात यह है कि गंभीर इस से राजनीति में आने से जुड़े कई सवाल किए गए थे. लेकिन उन्होंने राजनीति में आने की बात से साफ मना कर दिया था. इस मौके पर गंभीर और जेटली के अलावा रविशंकर प्रसाद भी मौजूद रहे.

गंभीर ने पार्टी में शामिल होने के बाद कहा कि वो प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के वीजन से प्रभावित हुए हैं. इस वजह से वो बीजेपी में शामिल हुए. गंभीर ने कहा कि इस प्लेटफॉर्म से जुड़ना मेरे लिए सम्मान की बात है.

देखें वीडियो :

गंभीर ने 2016 में भारत के लिए अंतिम टेस्ट मैच खेला था. उनका करियर 1999 में शुरू हुआ था. गंभीर ने टेस्ट मैचों में 41.95 के औसत से कुल 4154 रन बनाए और वनडे मैचों में उनके नाम 5238 रन रहे. गंभीर ने भारत के लिए 37 टी-20 मैच भी खेले. टेस्ट मैचों में गंभीर ने नौ शतक लगाए, जबकि वनडे मैचों में उनके नाम 11 शतक रहे. इसके अलावा गंभीर ने टी-20 मैचों में सात अर्धशतक लगाए.

अपने दो दशक के क्रिकेट करियर के दौरान गंभीर भारत के अलावा दिल्ली, दिल्ली डेयरडेविल्स, एसेक्स, कोलकाता नाइट राइर्डस के लिए खेले. कोलकाता नाइट राइर्डस के कप्तान के तौर पर गंभीर ने दो बार आईपीएल खिताब जीते हैं. वह दिल्ली की रणजी टीम तथा डेयरडेविल्स टीम के भी कप्तान रहे हैं.