नई दिल्ली. टीम इंडिया के पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर कुछ ही दिन पहले भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुए हैं. लोकसभा चुनाव से पहले उनके भाजपा में शामिल होने के बाद से ही कयास लगाए जा रहे थे कि उन्हें दिल्ली की किसी लोकसभा सीट से भाजपा बतौर प्रत्याशी चुनाव मैदान में उतार सकती है. अब इस बात की पुष्टि हो गई है, क्योंकि भाजपा की दिल्ली इकाई ने राष्ट्रीय राजधानी की सात लोकसभा सीटों के लिए जो 31 संभावित उम्मीदवारों की नई सूची तैयार की है, इसमें पूर्व क्रिकेटर का नाम भी शामिल है.

दरअसल, क्रिकेट खेलते रहने के दौरान भी गौतम गंभीर सोशल मीडिया पर सामाजिक मुद्दों और विषयों पर प्रतिक्रिया देते रहे हैं. इसलिए लोकसभा चुनाव के महीनों पहले से ही उनके किसी न किसी दल में शामिल होने के कयास लगते रहे हैं. हालांकि गौतम इस मामले पर चुप्पी साधे रहे. लेकिन क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद और ऐन चुनाव से पहले भाजपा में शामिल होकर उन्होंने इस कयासों को सही साबित कर दिया.

भाजपा में टिकट पर असंतोष, केंद्रीय मंत्री के खिलाफ हाय-हाय के नारे, समर्थकों में मारपीट

राज्य भाजपा की चुनाव समिति द्वारा इससे पहले लाई गई 21 संभावित उम्मीदवारों की सूची को पार्टी के शीर्ष नेतृत्व ने ठुकरा दिया था. भाजपा की दिल्ली इकाई के एक शीर्ष नेता ने कहा, ‘‘नई सूची में दस और नाम जोड़े गए हैं और पुराने नामों को भी इसमें शामिल रखा गया है. इसे बहुत जल्द राष्ट्रीय नेतृत्व के पास भेजा जाएगा.’’ पहली सूची में गंभीर का नाम शामिल नहीं था जो कुछ दिन पहले ही भाजपा में शामिल हुए हैं. नई दिल्ली लोकसभा सीट से उम्मीदवार के लिए गंभीर का नाम चर्चा में है. फिलहाल इस सीट से मीनाक्षी लेखी सांसद हैं.

अमेठी में गांधी परिवार से छूटा ‘वफादार’ का साथ, राहुल के खिलाफ हारून लड़ेंगे चुनाव

नई दिल्ली सीट से गौतम गंभीर के अलावा राज्य नेता रवींद्र गुप्ता और सतीश उपाध्याय का नाम भी संभावितों की सूची में शामिल है. गौतम गंभीर के चुनाव लड़ने के कयासों को उस समय भी बल मिला था, जब क्रिकेट से उनके संन्यास लेने के बाद पीएम नरेंद्र मोदी ने उन्हें चिट्ठी लिखी थी. गंभीर को लिखे अपने पत्र में पीएम मोदी ने क्रिकेट में उनके प्रदर्शन, विश्वकप के फाइनल मैच में भारत के लिए शानदार पारी खेलने और सामाजिक-राष्ट्रीय मुद्दों पर प्रतिक्रिया देने को लेकर प्रशंसा की थी. गौतम गंभीर ने इस चिट्ठी के लिए पीएम मोदी का शुक्रिया अदा किया था. इसके बाद से ही गंभीर के भाजपा में शामिल होने की चर्चाओं ने जोर पकड़ा, लेकिन पूर्व क्रिकेटर इन खबरों को नकारता रहा था.

(इनपुट – एजेंसी)

लोकसभा चुनाव से जुड़ी खबरों के लिए पढ़ते रहें India.com