नई दिल्ली: भारतीय आतंकवाद, बेरोजगारी और वित्तीय तथा राजनीतिक भ्रष्टाचार को लेकर सबसे अधिक चिंतित हैं. इप्सॉस के ‘व्हॉट वरीज द वर्ल्ड ग्लोबल सर्वे’ में कहा गया है कि 73 भारतवासी इस बात को लेकर आशान्वित हैं उनका देश सही दिशा में जा रहा है. चिंताओं के बावजूद भारत के लोग निराश नहीं हैं. इस सर्वे में 28 में से 22 देशों के लोग मानते हैं कि उनका देश गलत दिशा में जा रहा है. Also Read - Pakistani Madarsa Video: टीचर ने बच्चों को बुरी तरह पीटा, चीख-चीखकर रोए मासूम, लोग बोले- इसलिए आतंकवादी बन...

दुनिया के 28 बाजारों में किए गए सर्वे में मुद्दे भिन्न-भिन्न हैं. दुनिया के लोगों की प्रमुख चिंता वित्तीय और राजनीतिक भ्रष्टाचार और गरीबी तथा सामाजिक असमानता जैसे मुद्दे शीर्ष पर है. उसके बाद बेरोजगारी, अपराध और हिंसा और स्वास्थ्य देखभाल का नंबर आता है. सर्वे में कहा गया है कि पुलवामा आतंकवादी हमले के बाद भारत में आतंकवाद एक प्रमुख मुद्दा बनकर उभरा है. भारतीय आतंकवाद को लेकर सबसे अधिक चिंतित हैं. Also Read - UP: वकील ने वसीम रिजवी का सिर काटने वाले को 11 लाख रुपए इनाम देने की घोषणा की, पुलिस ने दर्ज की FIR

अश्लील फोटो, होटल में कमरा… और अब अंडरवियर, पढ़ें जया प्रदा-आजम खान की तकरार के किस्से Also Read - इस देश की अंतरिम राष्ट्रपति रहीं जीनिन एनेज अरेस्ट, आतंकवाद का आरोप लगा

इप्सॉस जन मामले, ग्राहक अनुभव और कॉरपोरेट प्रतिष्ठा के सर्विस लाइन लीडर परिजात चक्रवर्ती का कहना है कि इसके अलावा भारतीय रोजगार को लेकर भी खासे चिंतित हैं. यह एक मासिक आनलाइन सर्वे हैं जिसमें 28 देशों के 65 वर्ष की आयु तक के बालिग लोगों की राय ली गई. यह सर्वे भारत, चीन, फ्रांस, जर्मनी, सऊदी अरब और अमेरिका सहित अन्य देशों में किया गया. बता दें कि लोकसभा चुनाव में भी यही मुद्दे छाए हुए हैं.