थेनी (तमिलनाडु). तमिलनाडु के थेनी लोकसभा क्षेत्र में संदिग्ध धन होने की खुफिया जानकारी मिलने के बाद अधिकारियों ने एक दुकान पर छापा मारा. इस दौरान कार्रवाई का विरोध कर रहे टीटीवी दिनाकरण नेतृत्व वाले अन्नाद्रमुक गुट के कार्यकर्ताओं को तितर-बितर करने के लिए पुलिस को हवा में गोलियां चलानी पड़ीं. अधिकारियों ने बताया कि चुनाव आयोग द्वारा नियुक्त निगरानी दस्ते के अधिकारी और आयकर विभाग के अधिकारियों की एक टीम छापा मारने पहुंची और उन्होंने वहां से नोटों के बंडल बरामद किए. यह धन कथित तौर पर मतदाताओं को बांटा जाना था. Also Read - Income Tax Department News: आयकर विभाग ने 41.25 लाख आयकर दाताओं को जारी किया 1.36 लाख करोड़ का रिफंड

इस दल के थेनी जिले के अन्दिप्पत्ति स्थित एक दुकान पर पहुंचने पर दुकानदार दुकान का शटर गिरा फरार हो गया. ऐसा माना जा रहा है कि यह दुकान अन्नाद्रमुक (अम्मा मक्कल मुनेत्र कझगम) के एक समर्थक की है. उन्होंने बताया कि इसके बाद अन्नाद्रमुक के समर्थकों तथा अधिकारियों के बीच झड़प हो गई और हंगामा होने पर पुलिस ने हवा में चार बार गोलियां चलाईं. Also Read - Cyclone Nivar: तेजी से बढ़ रहा चक्रवाती तूफान निवार, इन राज्यों में मचा सकता है भारी तबाही, देखें VIDEO

300 रुपये हर लिफाफे पर
वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि गोलीबारी में कोई हताहत नहीं हुआ है. इस सिलसिले में अन्नाद्रमुक के चार कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया है. वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, बरामद किए गए लिफाफों पर वार्ड नंबर और मतदाताओं की संख्या लिखी हुई है इसके अलावा प्रत्येक लिफाफे पर 300 रुपए लिखे हुए हैं. छापे की कार्रवाई जारी है. Also Read - Agriculture Ministry News: छोटी सिंचाई परियोजनाओं के लिए केंद्र ने दी 3,971 करोड़ के सस्ते लोन को मंजूरी, जानिए- किस राज्य को मिली कितनी रकम

18 अप्रैल को है वोटिंग
बता दें कि तमिलनाडु में दूसरे चरण में 18 अप्रैल को मतदान होना है. चुनाव आयोग मतदाताओं को लुभाने के लिए अवैध नकदी के आरोपों के चलते वैल्लोर संसदीय क्षेत्र में पहले ही चुनाव रद्द कर चुका है.