अरवाकुरिचि (तमिलनाडु): मक्कल नीधि मैयम (एमएनएम) के संस्थापक कमल हासन ने यह कहकर नया विवाद खड़ा कर दिया है कि आजाद भारत का पहला आतंकवादी हिंदू था. वह महात्मा गांधी की हत्या करने वाले, नाथूराम गोडसे के संदर्भ में बात कर रहे थे. बता दें कि करूर जिले में रविवार को अरावकुरुचि में विधानसभा उपचुनाव के लिए अपनी पार्टी मक्कल नीधि मैयम के उम्मीदवार का प्रचार करते हुए कमल ने कहा है, “आजाद भारत का पहला आतंकवादी नाथूराम गोडसे एक हिंदू था. ”

वोट न डालकर आपने बहुत बड़ा पाप किया है दिग्गी राजा: मोदी

रविवार की रात एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए हासन ने कहा कि वह एक ऐसे स्वाभिमानी भारतीय हैं, जो समानता वाला भारत चाहते हैं. हासन कहा, मैं ऐसा इसलिए नहीं बोल रहा हूं कि यह मुसलमान बहुल इलाका है, बल्कि मैं यह बात गांधी की प्रतिमा के सामने बोल रहा हूं. आजाद भारत का पहला आतंकवादी हिंदू था और उसका नाम नाथूराम गोडसे है. वहीं से इसकी (आतंकवाद) शुरुआत हुई. महात्मा गांधी की 1948 में हुई हत्या का हवाला देते हुए हासन ने कहा कि वह उस हत्या का जवाब खोजने आए हैं.

धर्मेंद्र ने कहा- सनी देओल को चुनाव नहीं लड़ने देता अगर मालूम होती ये बात

बता दें गोडसे ने 30 जनवरी 1948 को नई दिल्ली में महात्मा गांधी की गोली मारकर हत्या की थी. हासन ने कहा, “मैं यहां उस हत्या पर सवाल करने के लिए हूं. ”

इस पर प्रतिक्रिया देते हुए भाजपा नेता सौंदरराजन ने ट्वीट कर कहा कि अब गांधी की हत्या को याद करना और उसे हिंदू आतंकवाद का नाम देना निंदनीय है. सौंदरराजन ने ट्वीट किया, “तमिलनाडु उपचुनाव में अल्पसंख्यकों के बीच खड़े होकर वे अल्पसंख्यक तुष्टीकरण कर वोट पाने के लिए खतरनाक आग लगा रहे हैं. कमल ने हाल ही में श्रीलंका में हुए बम विस्फोटों पर कुछ नहीं कहा, क्यों?”

सौंदरराजन ने एक बयान में कहा, हालांकि, ”वह नए तरह की राजनीति करने की बात करते हैं, लेकिन वह पुराने, चालाकी भरे, जहरीले और विभाजनकारी वोट बैंक की राजनीति कर रहे हैं.” उन्होंने कहा कि हासन का बयान साम्प्रदायिक हिंसा भड़काने के बराबर है.

श्रीलंका में ईस्टर के दिन हुए हमलों के संदर्भ में भाजपा नेता ने पूछा कि यह जानते हुए कि हमले मुसलमानों ने किए हैं. क्या हासन जैसे लोगों ने उसपर टिप्पणी की. हमलों में 350 से ज्यादा लोग मारे गए थे. उन्होंने कहा कि मुस्लिम बहुल इलाके में हासन की यह टिप्पणी चालाकी भरी और एजेंडा के तहत की गई है.

भाजपा नेता ने कहा, इसलिए, ऐसे व्यक्ति के चुनाव प्रचार पर रोक लगनी चाहिए. पुलिस को इस सिलसिले में कार्रवाई करनी चाहिए क्योंकि तनाव बढ़ाने का प्रयास किया जा रहा है.

समुदाय के चित्रण पर मुसलमानों की ओर से करोड़ों रुपये की लागत वाली फिल्म ‘विश्वरुपम’ की रिलीज अटकने पर देश छोड़कर जाने की हासन की धमकी पर चुटकी लेते हुए सौंदरराजन ने कहा, यह बेहद खराब अभिनय है और अब वह देश के बारे में बात कर रहे हैं. अभिनेता विवेक ओबेरॉय ने भी इसे लेकर हासन की आलोचना की है. हासन ने कहा, “जब उनकी (कमल) फिल्म (विश्वरूपम) के प्रदर्शन को धार्मिक संगठनों द्वारा रोका गया तो, उन्होंने देश छोड़ने की धमकी दी. लेकिन अब वे खुद को सच्चा भारतीय बताते हैं. पटकथा में अवसर समाप्त होने के कारण अब राजनीति में अभिनय शुरू कर दिया है.” (इनपुट- एजेंसी)