नई दिल्ली. आरजेडी अध्यक्ष लालू यादव के बड़े बेटे और बिहार के पूर्व मंत्री तेज प्रताप यादव को जान से मारने की धमकी मिली है. इस बाबत तेज प्रताप ने पुलिस को एक चिट्ठी लिखकर जानकारी दी है. उन्होंने पुलिस से अनुरोध किया है कि इस मामले में जांच की जाए.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, फोन करने वाले ने अपने आप को आरजेडी स्टूडेंट विंग का नेता बताया है. इसके बाद पुलिस ने इस मामले में एक एफआईआर दर्ज कर लिया है.

चिट्टी में दी ये जानकारी
तेज प्रताप ने कहा है कि उनके पर्सनल असिस्टेंट श्रृजन स्वराज को एक अनजान नंबर से फोन आया था. इसमें उसने मुझे और श्रृजन को जान से मारने की धमकी दी है. वह अपने आप को आरजेडी स्टूडेंट विंग का सदस्य बता रहा था. यह बड़ा ही संवेदनशील मामला है और सुरक्षा से जुड़ा हुआ है. श्रृजन के पास फोन की रिकॉर्डिंग भी है.

हाल ही में दिया है इस्तीफा
बता दें कि तेज प्रताप को ये धमकी उस समय मिली है जब हाल ही में उन्होंने आरजेडी स्टूडेंट विंग के संरक्षक के पद से इस्तीफा दिया है. उन्होंने अपनी नई पॉलिटिकल पार्टी लालू-राबड़ी मोर्चा बनाई है. उन्होंने बकायदा प्रेस कॉन्फ्रेंस करके इसकी जानकारी दी. बताया जा रहा है कि वह कुछ सीटों पर अपने फ्रंट से उम्मीदवार भी उतारेंगे.