नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election 2019) के दूसरे चरण में कुल 251 उम्मीदवारों ने अपने खिलाफ आपराधिक मामलों की घोषणा की है. इनमें 167 गंभीर आपराधिक मामलों वाले उम्मीदवार हैं. यह जानकारी नेशनल इलेक्शव वाच और एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉम्स (एडीआर) द्वारा 1,590 उम्मीदवारों के हलफनामों के विश्लेषण से सामने आई है. एडीआर ने एक बयान में कहा है कि गुरुवार को होने वाले दूसरे चरण के मतदान के लिए मैदान में वैसे 1,644 उम्मीदवार हैं, लेकिन 54 उम्मीदवारों के हलफनामे उपलब्ध न होने पाने के कारण उनका विश्लेषण नहीं किया जा सका है. दूसरे चरण का मतदान 18 अप्रैल को है.

एडीआर की रिपोर्ट में कहा गया है कि प्रमुख दलों में कांग्रेस के 53 उम्मीदवारों में से 23, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के 51 उम्मीदवारों में से 16, बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के 80 उम्मीदवारों में से 16, ऑल इंडिया अन्ना द्रविड़ मुनेत्र कड़गम(एआईएडीएमके) के 22 उम्मीदवारों में से तीन, द्रविड़ मुनेत्र कड़गम(डीएमके) के 24 उम्मीदवारों में से 11 और शिवसेना के 11 उम्मीदवारों में से चार ने अपने खिलाफ आपराधिक मामले घोषित किए हैं. रपट में कहा गया है कि कांग्रेस के 17, भाजपा के 10, बसपा के 10, एआईएडीएमके के तीन, डीएमके के सात और शिवसेना के एक उम्मीदवार के खिलाफ गंभीर आपराधिक मामले हैं.

शत्रुघ्न सिन्हा की PM मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ने की ख्वाहिश, बोले- मुकाबला हो तो खुशी होगी

विश्लेषण से यह भी सामने आया है कि तीन उम्मीदवारों ने घोषित किया है कि वे अपने खिलाफ मामलों में दोषी ठहराए जा चुके हैं, जबकि छह ने अपने खिलाफ हत्या से जुड़े मामले घोषित किए है, और 25 उम्मीदवारों ने हत्या के प्रयास से संबंधित मामले अपने खिलाफ घोषित किए हैं. बयान के अनुसार, आठ उम्मीदवारों ने अपहरण से जुड़े मामले घोषित किए हैं, जबकि 10 ने महिलाओं के खिलाफ अपराध से जुड़े मामले अपने खिलाफ घोषित किए हैं. कुल 15 उम्मीदवारों ने अपने खिलाफ घृणास्पद अपराध से जुड़े मामले भी घोषित किए हैं.

जहां 423 उम्मीदवारों ने एक करोड़ रुपये से अधिक की संपत्ति घोषित की है, जिनमें से ज्यादातर कांग्रेस (46) और भाजपा (45) से हैं, वहीं कांग्रेस उम्मीदवारों की औसत संपत्ति 31.83 करोड़ रुपये और भाजपा उम्मीदवारों की औसत संपत्ति 21.59 करोड़ रुपये है. 16 उम्मीदवारों ने शून्य संपत्ति घोषित की है. कांग्रेस के कन्याकुमारी से उम्मीदवार वसंतकुमार एच. ने सर्वाधिक संपत्ति (417 करोड़ रुपये से अधिक) घोषित की है.

‘आजम खान साहब, मैंने आपको भाई माना, क्या भाई अपनी बहन को ‘नाचने वाली’ की नजर से देखते हैं’

इसके बाद पुर्णिया (बिहार) से उम्मीदवार उदय सिंह (341 करोड़ रुपये से अधिक), और बेंगलुरू ग्रामीण से उम्मीदवार डी.के. सुरेश (338 करोड़ रुपये से अधिक) का स्थान है. हिंदुस्तान जनता पार्टी के सोलापुर (महाराष्ट्र) से उम्मीदवार श्रीवेंकटेश्वर महा स्वामीजी ने मात्र नौ रुपये की संपत्ति घोषित की है. जबकि तमिलनाडु के मयिलादुथुरई से दो निर्दलीय उम्मीदवारों राजेश पी. और राजा एन. ने 100 रुपये मूल्य की संपत्ति घोषित की है.