नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव की घोषणा हो चुकी है. सभी राजनीतिक पार्टियां चुनाव की तैयारियों में जुट गई हैं. हार-जीत को लेकर नेताओं के अपने आंकलन है. हर कोई अपनी पार्टी की जीत का दावा कर रहा है. लेकिन नेशनल कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के नेता और इस बार लोकसभा चुनाव नहीं लड़ने की घोषणा कर चुके शरद पवार ने बीजेपी को लेकर भविष्यवाणी की है. इस सीनियर नेता का कहना है कि इस लोकसभा चुनाव में बीजेपी सिंगल लार्जेस्ट पार्टी बन सकती है लेकिन पीएम मोदी को दूसरा कार्यकाल मिलने की संभावना नहीं है. Also Read - TMC सांसद नुसरत जहां ने भाजपा को बताया दंगा कराने वाला, मुसलमानों को कहा- उल्टी गिनती शुरू..

राजनीतिक पंडितो का कहना है कि यह चुनाव गठबंधन का चुनाव है. जो पार्टी जितने ज्यादा दलों से गठबंधन करेगी उसकी जीत और सत्ता पाने की की संभावना उतनी ही ज्यादा है. गठबंधन के मामले में यूपीए की तुलना में एनडीए खेमा आगे दिख रहा है. गठबंधन को लेकर शरद पवार का कहना है कि वह 14 और 15 मार्च को दिल्ली में कुछ क्षेत्रीय दलों से मिलेंगे जहां महागठबंधन की आगे की रणनीति पर चर्चा की जाएगी. Also Read - Army Day 2021: BJP ने सेना दिवस के अवसर पर साझा किया बेहतरीन वीडियो, दिखा जवानों का पराक्रम

महाराष्ट्र की 48 सीटों पर कांग्रेस और एनसीपी साथ चुनाव लड़ रही हैं लेकिन सीटों के बंटवारे को लेकर अब तक कोई घोषणा नहीं हुई है. इस मामले में पवार का कहना है कि दोनों पार्टियों के बीच सीट बंटवारे के फॉर्मूले को लगभग अंतिम रूप दे दिया गया है और जल्द ही आधिकारिक एलान कर दिया जाएगा. Also Read - West Bengal Assembly Election 2021: बंगाल में पाला बदलने की होड़, TMC के 41 विधायक तो BJP के 7 सांसद कर सकते हैं बगावत

शरद पवार ने एक बार फिर दोहराया कि वह लोकसभा चुनाव नहीं लड़ेंगे. 78 साल के इस नेता ने परिवार के अन्य सदस्यों के चुनाव लड़ने के लिए यह फैसला किया है. वह अब तक 14 बार चुनाव जीत चुके हैं. हालांकि विपक्ष ने शरद पवार के चुनाव नहीं लड़ने को लेकर निशाना साधा है. महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस का कहना है कि एनसीपी प्रमुख ने चुनावी मुकाबले से इसलिए हटने का फैसला किया क्योंकि उन्हें ‘हवा के रूख’ का अहसास हो गया है.