बेंगलुरु. भारतीय जनता पार्टी इस लोकसभा चुनाव में दक्षिण भारत में भी अपनी स्थिति को मजबूत करने की दिशा में काम कर रही है. इसलिए बुधवार को दिन में जहां सुदूर दक्षिणी राज्य केरल के लिए पार्टी ने चुनावी रणनीति बनाई, तो वहीं कर्नाटक में भी पार्टी ने अकेले दम पर चुनाव लड़ने का एलान कर दिया. केरल में जहां बीजेपी कुछ पार्टियों के साथ गठबंधन कर चुनावी समर में उतरेगी, वहीं कर्नाटक में सभी लोकसभा सीटों पर पार्टी के उम्मीदवार जेडीएस-कांग्रेस गठबंधन के प्रत्याशियों से भिड़ेंगे. कर्नाटक में भाजपा के वरिष्ठ नेता और विधायक केएस ईश्वरप्पा ने बुधवार को कहा कि उनकी पार्टी कर्नाटक के सभी 28 लोकसभा क्षेत्रों से अपने उम्मीदवार खड़े करेगी.

राज्य के पूर्व उप मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी उम्मीदवारों के नाम लगभग तय किए जा चुके हैं और इसे बुधवार की रात में जारी किया जा सकता है. ईश्वरप्पा ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘हमारे उम्मीदवारों की सूची लगभग पूरी हो चुकी है. हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष आज रात इसे जारी करेंगे. हम सभी 28 लोकसभा सीटों से चुनाव लड़ रहे हैं. हमें उम्मीद से ज्यादा समर्थन मिल रहा है.’’ उनसे मांड्या संसदीय सीट के बारे में सवाल किया गया. यहां के पूर्व सांसद और कन्नड़ फिल्म के लोकप्रिय अभिनेता की पत्नी सूमालता निर्दलीय चुनाव लड़ रही हैं.

बीजेपी का केरल के लिए गेम प्‍लान आया सामने, इन पार्टियों से हुआ गठबंधन

इस सवाल पर शिवमोगा के विधायक ने कहा कि कर्नाटक में 28 सीट हैं और मांड्या उनमें से एक है. सूमालता ने मांड्या से निर्दलीय चुनाव लड़ने के अपने फैसले की घोषणा की है. भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष बी एस येदियुरप्पा ने कहा था कि पार्टी मांड्या पर फैसला लेगी. सूमालता ने बुधवार को नामांकन पर्चा भरा. सूमालता को समर्थन देने के सवाल पर उन्होंने कहा, ‘‘ जब मैं आपको बता रहा हूं कि हम मांड्या से उम्मीदवार खड़े कर रहे हैं तो इसका क्या मतलब है? हम अपने उम्मीदवार की पीठ में किसी अन्य का समर्थन करके छुरा नहीं भोकेंगे.’

भाजपा के सूत्रों ने बताया कि पार्टी ने मांड्या से एहतियाती कदम उठाते हुए उम्मीदवार खड़े करने का निर्णय लिया है. भाजपा के एक वरिष्ठ पदाधिकारी ने कहा, ‘‘क्या होगा अगर सूमालता ने दबाव में आकर अपना नामांकन पत्र वापस ले लिया. इससे पहले भी हम ऐसा अनुभव कर चुके हैं. यही कारण है कि हमने अपना उम्मीदवार उतारने का फैसला किया.” आपको बता दें कि कर्नाटक में दो चरणों में 18 अप्रैल और 23 अप्रैल को चुनाव है.

(इनपुट – एजेंसी)