बेंगलुरूः कर्नाटक में लोकसभा चुनाव में भाजपा की भारी जीत के संकेत मिलने से उत्साहित पार्टी के वरिष्ठ नेता आर. अशोक ने गुरुवार को मुख्यमंत्री एच.डी. कुमारस्वामी से इस्तीफा मांगा. अशोक ने यहां पार्टी मुख्यालय में संवाददाताओं से कहा, “हार को सम्मान के साथ स्वीकार करते हुए कुमारस्वामी को इस्तीफा दे देना चाहिए, क्योंकि उनकी पार्टी को कांग्रेस के साथ सत्ता में रहने का कोई नैतिक अधिकार नहीं रह गया है, जो राज्य की 24 संसदीय सीटों पर पीछे चल रही है.”

मतगणना के ताजा रुझानों के अनुसार, भाजपा 23 सीटों पर आगे चल रही है, जबकि कांग्रेस तीन सीटों पर और जद(एस) एक सीट पर आगे चल रही है. मांड्या में निर्दलीय उम्मीदवार सुमालता अम्बरीश जद(एस) के उम्मीदवार निखिल कुमारस्वामी से आगे चल रही हैं. सुमालता को भाजपा का समर्थन है, जबकि निखिल मुख्यमंत्री एच.डी. कुमारस्वामी के पुत्र हैं. अशोक ने कहा, “जद (यू) के मुख्यमंत्री रामकृष्ण हेगड़े ने 1984 के लोकसभा चुनाव में अपनी पार्टी की हार के बाद नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए पद से इस्तीफा दे दिया था.” 2014 के आम चुनाव में भाजपा ने 17 सीटें जीती थी, जबकि कांग्रेस ने नौ और जद (एस) ने दो सीटों पर जीत दर्ज की थी.