नई दिल्ली. ओडिशा की पुरी लोकसभा सीट पर मतगणना (lok sabha election results) जारी है. यहां से इस बार लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी ने अपने तेज-तर्रार प्रवक्ता संबित पात्रा को चुनाव मैदान में उतारा है. उनके खिलाफ राज्य में सत्ताधारी पार्टी बीजू जनता दल ने सुप्रीम कोर्ट के पूर्व चीफ जस्टिस रंगनाथ मिश्र के बेटे पिनाकी मिश्रा को उम्मीदवार बनाया है. निर्वाचन आयोग के मुताबिक मतगणना के ताजा रुझानों में भाजपा उम्मीदवार संबित पात्रा 6 हजार से अधिक मतों के साथ बीजद प्रत्याशी पर बढ़त बनाए हुए है. पुरी में लोकसभा चुनाव के तीसरे चरण में मतदान हुआ था. निर्वाचन आयोग की रिपोर्ट के अनुसार, इस बार के चुनाव में पुरी में 2014 के मुकाबले कम मतदान हुआ है.

लोकसभा चुनाव के मतगणना के ताजा रुझानों के (lok sabha vote counting trend) मुताबिक 542 सीटों पर हुए चुनाव में भाजपा अपने दम पर 300 सीटें लाती दिख रही है. वहीं राजग की उसकी अन्य सहयोगी पार्टियों का प्रदर्शन भी बेहतर है. सियासी विश्लेषकों के सभी आंकड़ों को धूल चटाते हुए भाजपा का सबसे हैरान कर देने वाला प्रदर्शन (lok sabha election result 2019) उत्तर प्रदेश में रहा है, जहां पार्टी 50 से ज्यादा सीटों पर प्रतिद्वंद्वी पार्टी से आगे चल रही है. सबसे चौंकाने वाला परिणाम अमेठी लोकसभा सीट का आ रहा है, जहां से कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भाजपा प्रत्याशी स्मृति ईरानी से वोटों की गिनती में पीछे चल रहे हैं.

Lok Sabha Election Result Live: 2014 से भी बड़ी जीत की ओर भाजपा, कांग्रेस की फिर लुटिया डूबी

निर्वाचन आयोग के आंकड़ों के मुताबिक, पुरी लोकसभा सीट पर 2014 के चुनाव में जहां 74 प्रतिशत मतदान रिकॉर्ड किया गया था, वहीं इस बार इसमें कमी आई है. 2019 में पुरी में 72.53 फीसदी मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया है. इस लोकसभा सीट पर 14 लाख से ज्यादा मतदाता हैं. राज्य में बीजद की सरकार है और वहां लोकसभा ((lok sabha election results live) के साथ-साथ विधानसभा के चुनाव भी हुए हैं. ऐसे में सीएम नवीन पटनायक के खिलाफ सत्ता विरोधी लहर का फायदा उठाने का प्रयास भाजपा ने किया है. इस सीट पर कांग्रेस की तरफ से सत्यप्रकाश नायक भी लड़ाई में बने हुए हैं.

भाजपा की प्रचंड जीत पर बोले पीएम मोदी- विजयी भारत, शाम में मिलेंगे कार्यकर्ताओं से

हालांकि राज्य में पिछले 15 साल से अधिक समय से सत्ता पर काबिज बीजद ने भी पुरी से अपने उम्मीदवार को जिताने के लिए पुरजोर कोशिशें की हैं. ऐसे में मतगणना के आंकड़े किसके पक्ष में जाते हैं, यह कहना मुश्किल है. मतदान से पहले के शुरुआती आकलन में भाजपा जरूर बीजद पर हावी रही है, लेकिन गुरुवार को जबकि लोकसभा चुनाव की मतगणना का काम जारी है, हमें अंतिम परिणाम का ही इंतजार करना होगा. आपको बता दें कि 2019 के लोकसभा चुनाव के मतदान सात चरणों में कराए गए हैं. आपको बता दें कि ओडिशा में लोकसभा के साथ-साथ विधानसभा के भी चुनाव हुए हैं. विधानसभा की मतगणना में बीजू जनता दल प्रतिद्वंद्वी भाजपा से काफी आगे है. वहीं, देशस्तर पर हो रही लोकसभा चुनाव की मतगणना में केंद्र में एक बार फिर भाजपा सरकार बनाने की दिशा में आगे बढ़ रही है.