Lok Sabha Election 2019 Results: लोकसभा चुनाव की मतगणना गुरुवार को होगी. मतों की गिनती की ताजा जानकारी लोगों तक पहुंचाने के लिए निर्वाचन आयोग के साथ-साथ विभिन्न समाचार माध्यम भी अपने स्तर से इंतजाम कर रहे हैं. इसके तहत दूरदर्शन यानी DD News का संचालन करने वाली संस्था प्रसार भारती ने गूगल (Google) के साथ मिलकर लोकसभा चुनाव परिणाम का सीधा प्रसारण इंटरनेट के जरिए करने की योजना बनाई है. इसके लिए प्रसार भारती ने गूगल से हाथ मिलाया है. योजना है कि गुरुवार यानी 23 मई को यूट्यूब पर लोकसभा और राज्य विधानसभाओं चुनाव परिणाम का सीधा प्रसारण किया जाएगा. यह सुविधा यूट्यूब पर 23 मई, 2019 को पूरे समय सक्रिय रहेगी. Also Read - MP by-election: चुनावी घमासान के बीच सपा उम्‍मीदवार केंद्रीय मंत्री की मौजूदगी में बीजेपी में शामिल

Also Read - राहुल गांधी का PM मोदी पर हमला- पहली बार दशहरा में 'रावण' नहीं, प्रधानमंत्री का पुतला जलाया गया

EVM से जुड़ी शिकायतों का अंबार लगा तो चुनाव आयोग ने बनाया कंट्रोल रूम, देशभर के स्ट्रॉन्ग रूम की होगी निगरानी Also Read - Bihar Polls: कमल प्रिंट वाला मास्क पहनकर मतदान करने पर घिरे मंत्री ने दी सफाई, चुनाव आयोग भी करेगा कार्रवाई

प्रसार भारती के अधिकारियों ने बताया कि गूगल और प्रसार भारती 23 मई को यूट्यूब पर परिणामों का सीधा प्रसारण करके लोकतंत्र का सबसे बड़ा त्योहार मनाएंगे. प्रसार भारती के सीईओ शशि शेखर वेम्पती ने कहा, ‘‘होने यह जा रहा है जब भी कोई भारत में कहीं से भी यूट्यूब तक पहुंच बनाएगा, चाहे यूट्यूब की वेबसाइट के माध्यम से या यूट्यूब ऐप के माध्यम से, सबसे पहली चीज जो वह ऊपर देखेगा वह होगी डीडी न्यूज की समाचार स्ट्रिमिंग जो परिणामों को अपडेट करता रहेगा.’’ उन्होंने कहा, ‘‘जब आप यूट्यूब पर उक्त स्क्रीन पर क्लिक करेंगे तो वह डीडी न्यूज का लाइव यूट्यूब चैनल होगा. इसके अलावा उक्त विंडो में दूरदर्शन के 14 विभिन्न भाषाओं के क्षेत्रीय स्टेशनों के सीधे प्रसारण का भी विकल्प होगा.’’

वेम्पति ने कहा कि यह मतगणना के मामले में सरकारी प्रसारणकर्ता को बहुत अधिक दृश्यता देगा जो प्रामाणिक और विश्वसनीय है. क्योंकि पूर्व में यह देखा गया है कि मतगणना के पहले 2-3 घंटों के दौरान बहुत अधिक गड़बड़ी और गलत रिपोर्टिंग होती है. उन्होंने कहा कि यह गूगल और प्रसार भारती के बीच होने वाला गठजोड़ है. उन्होंने कहा, ‘‘यह सुनिश्चित करेगा कि सरकारी प्रसारणकर्ता की ‘टैली’ यूट्यूब तक पहुंच बनाने वाले किसी भी व्यक्ति को दिखाई दे. यह चुनाव परिणामों को डिजिटल रूप में, विभिन्न भाषाओं में लाने और यह सुनिश्चित करने के संदर्भ में महत्वपूर्ण है कि स्रोत भारत में सबसे प्रामाणिक है.”

(इनपुट – एजेंसी)

लोकसभा चुनाव के परिणाम से जुड़ी खबरों के लिए पढ़ते रहें India.com