पटना: बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने बुधवार को कहा कि कोलकाता में भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) के अध्यक्ष अमित शाह के रोडशो पर हमले और हिंसा की अन्य घटनाओं से साफ है कि ममता बनर्जी ने पश्चिम बंगाल की वही हालत कर दी है, जैसी लालू प्रसाद के राज में बिहार की थी. उन्होंने कहा कि इनके शाासन की चुनावी हिंसा में 671 लोग मारे गये थे. Also Read - Audio Case: भाजपा विधायक ललन कुमार पासवान ने लालू प्रसाद के खिलाफ दर्ज कराई प्राथमिकी, IG ने जांच के दिए आदेश

Also Read - ममता बनर्जी ने कहा- चुनाव के समय आकर हिंसा करते हैं, ऐसे बाहरी लोगों के लिए बंगाल में जगह नहीं

पीएम मोदी का ममता बनर्जी पर हमला, कहा- दीदी के गुंडे बंदूक व बम लिए विनाश पर उतारू Also Read - इंटरव्यू: चिदंबरम ने कहा- BJP देश में निरंकुशता और नियंत्रण युग वापस लाएगी, देश पीछे जाएगा

सुशील मोदी ने बुधवार को एक बयान जारी कहा कि राष्ट्रीय जनता दल (राजद) ने पश्चिम बंगाल की हिंसा की घटनाओं की निंदा नहीं की. अगर गलती से भी राजद को मौका मिला, तो ये फिर बिहार को हिंसा और अपराध की आग में झोंक देंगे. उपमुख्यमंत्री ने कहा कि पश्चिम बंगाल में राजनीतिक विरोधियों को सभा करने से रोका जा रहा है. दूसरे राज्य के मुख्यमंत्री तक के हेलीकाप्टर नहीं उतर सकते. ‘जय श्रीराम’ के नारे लगाने पर धमकी मिलती है. सोशल मीडिया में ममता दीदी का केरिकेचर (मेमे) साझा करने मात्र से महिला कार्यकर्ता को गिरफ्तार किया जाता है.

BJP सरकार आने पर देशद्रोह कानून को करेंगे सख्त, कांपेगी आंख दिखाने वालों की रूह: राजनाथ सिंह

पड़ोसी राज्य में संवैधानिक ढांचा ध्वस्त

भाजपा नेता मोदी ने कहा कि पड़ोसी राज्य में संवैधानिक ढांचा ध्वस्त है और अभिव्यक्ति की आजादी का गला दबाया जा रहा है, फिर भी कांग्रेस, राजद और उनके दोस्त वामपंथियों को असहिष्णुता क्यों नहीं दिखती? जिन लोगों ने इस मुद्दे पर पुरस्कार लौटाने का नाटक किया था, वे आज चुप क्यों हैं?

लोकसभा चुनाव से जुड़ी खबरों के लिए पढ़ते रहें India.com