Manoj Sinha Lost Election in Ghazipur: रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा को छोड़कर उत्तर प्रदेश की विभिन्न सीटों से चुनाव लड़ने वाले बाकी सभी केन्द्रीय मंत्री चुनाव जीतने में कामयाब रहे. प्रदेश से कुल नौ केन्द्रीय मंत्री चुनाव लड़े थे, जिनमें से आठ के सिर जीत का सेहरा बंधा. मनोबल के लिहाज से सबसे बड़ी जीत कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी को हासिल हुई. उन्होंने नेहरू-गांधी परिवार के गढ़ अमेठी से कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को 55120 मतों से शिकस्त देकर सभी को चौंका दिया.Also Read - JKBOSE 12th Result 2021 Declared: JKBOSE ने जारी किया 12वीं का रिजल्ट, ये रहा चेक करने का Direct Link

इसके अलावा महिला एवं परिवार कल्याण मंत्री मेनका गांधी ने सुलतानपुर सीट से गठबंधन प्रत्याशी बसपा के चंद्रभद्र सिंह ‘सोनू’ को 14526 मतों से हराया. पर्यावरण एवं वन राज्यमंत्री डॉक्टर महेश शर्मा ने गौतम बुद्ध नगर सीट से अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी बसपा के सतवीर को 336922 मतों से पराजित कर इस सीट पर अपना कब्जा बरकरार रखा. केन्द्रीय श्रम एवं सेवायोजन मंत्री संतोष गंगवार ने बरेली सीट से अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी गठबंधन प्रत्याशी सपा के भगवत शरण गंगवार को 167282 वोटों से पराजित करके यह सीट अपने पास बरकरार रखी. Also Read - UP: मुख्तार अंसारी के करीबी क्रिमिनल को संरक्षण देने के मामले में थानेदार, इंस्‍पेक्‍टर समेत तीन पुलिसकर्मी सस्‍पेंड

विदेश राज्यमंत्री जनरल वी.के. सिंह ने गाजियाबाद सीट से अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी गठबंधन उम्मीदवार सपा के सुरेश बंसल को 501500 मतों से हराया. केन्द्रीय खाद्य प्रसंस्करण राज्यमंत्री साध्वी निरंजन ज्योति ने फतेहपुर सीट से अपने करीबी प्रतिद्वंद्वी गठबंधन उम्मीदवार बसपा के सुखदेव प्रसाद वर्मा को 198205 मतों से हराया. केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्यमंत्री अनुप्रिया पटेल ने भाजपा के सहयोगी अपना दल-सोनेलाल की प्रत्याशी के तौर पर मिर्जापुर सीट से गठबंधन उम्मीदवार सपा के राम चरित्र निषाद को 232008 से परास्त किया. Also Read - Uttar Pradesh (UP) Unlock Latest Update: आज इन जिलों से हटा कोरोना कर्फ्यू, Parents Special Vaccination भी शुरू

मानव संसाधन विकास राज्यमंत्री डॉक्टर सत्यपाल सिंह ने बागपत सीट से अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी रालोद के जयंत चौधरी को 23502 मतों से हराया. हालांकि रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा को गाजीपुर सीट से निराशा हाथ लगी. उन्हें गठबंधन प्रत्याशी बसपा के अफजाल अंसारी ने 119392 मतों से पराजित किया.