हरिद्वार: योग गुरु स्वामी रामदेव ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के व्यक्तित्व को हिमालय जैसा बताते हुए कहा कि उन लोगों को वोट देना चाहिए जिनकी नीतियां, नीयत, नेतृत्व और चरित्र पवित्र हों. रामदेव ने गुरुवार को कनखल स्थित दादू बाग मतदान केंद्र में मतदान करने के बाद मीडियाकर्मियों से कहा, ”देश के परिप्रेक्ष्य में अगर व्यक्तियों की तुलना की जाये तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का व्यक्तित्व हिमालय जैसा है. उन्होंने कहा, बाकी नेताओं का व्यक्तित्व, चरित्र और राष्ट्र के लिए उनका योगदान, सब देश के सामने है” यजुर्वेद को उद्धृत करते हुए स्वामी रामदेव ने कहा कि भ्रष्टाचारियों, देश को लूटने वालों, धर्म और उन्माद की आग लगाने वाले लोगों को कतई वोट नहीं देना चाहिए.

रामदेव ने कहा, ” ऐसे लोगों को वोट देना चाहिए जिनकी नीतियां, नीयत, नेतृत्व और चरित्र पवित्र हों. स्वामी रामदेव ने लोगों से मतदान करने की अपील करते हुए कहा कि लोकतंत्र के इस महापर्व में हर नागरिक को वोट देने जाना चाहिए और राष्ट्र के प्रति अपना उत्तरदायित्व निभाना चाहिए.

योगगुरु ने कहा कि ऐसे सांसदों को चुनकर भेजें जिससे संसद, संविधान और देश की गरिमा बरकरार रहे. रामदेव ने नोटा से असहमति जताई और कहा कि उपलब्ध विकल्पों में से सर्वश्रेष्ठ का चयन करना चाहिए. योगगुरू के साथ उनके करीबी आचार्य बालकृष्ण भी थे .

बडी संख्या में साधु—संतों ने भी अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के राष्ट्रीय महामंत्री महंत हरि गिरी महाराज के नेतृत्व में माया देवी मंदिर परिसर के पास स्थित मतदान केंद्र में अपना वोट डाला. इस मौके पर हरि गिरि ने मतदान को राष्ट्रीय कर्तव्य बताते हुए कहा कि साधु संत पूरे देश में घूम—घूम कर मतदाताओं को अधिक से अधिक वोट देने के लिए जागरूक करेंगे.