नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दिल्ली में पहली बार के मतदाताओं के बीच काफी लोकप्रिय दिख रहे हैं. पहली बार के मतदाताओं में से ज्यादातर मोदी के ‘युवाओं के लिए प्यार’ के अलावा उनकी विदेश नीति, राष्ट्रवाद व शिक्षा में सुधार की सराहना करते हैं. राजधानी के नए मतदाताओं से आईएएनएस ने बातचीत की. इन मतदाताओं के लिए प्रधानमंत्री किसी नायक से कम नहीं हैं.

पहली बार के मतदाता दिनेश व संजय ने बाहर के देशों में भारत के ‘सम्मान’ की वजह से मोदी को वोट दिया. उनका मानना है कि मोदी की वजह से बाहर के देशों में भारत का सम्मान बढ़ा है. मोतीलाल नेहरू मार्ग के निवासियों ने कहा कि हमने भारत को विदेशों में मिल रहे सम्मान को देखकर वोट किया है. मोदी ने कई देशों की यात्रा की है और निवेश लाने का कार्य किया है, जो आने वाले दिनों में परिणाम देना शुरू करेगा. आकृति (21) का कहना है कि कोई भी राजनेता मोदी जितना युवाओं को प्यार नहीं करता.

पीएम के ‘जात-पात जपना, जनता का माल अपना’ बयान पर भड़कीं मायावती, कही ये बात

बुराड़ी में रहनी वाली बी.कॉम छात्र ने कहा कि आप दुनिया में कहां देखते हैं कि बोर्ड परीक्षाओं से पहले प्रधानमंत्री छात्रों को संबोधित करते हैं. मोदी अकेले ऐसे हैं. कोई भी राजनेता युवाओं को उनके जितना प्यार नहीं करता है. वह अपने छात्रों से बात करने व उनसे मिलने के लिए व्यस्त कार्यक्रम से समय निकालते हैं. मयूर बिहार के पहली बार के मतदाता प्रियांशु राय मोदी सरकार से प्रभावित हैं, क्योंकि सरकार ने कौशल विकास पर ध्यान दिया है.

सटोरियों की नजर में बहुमत से काफी दूर रह जाएगा NDA, यूपी में मिल सकती हैं केवल इतनी सीटें

21 साल के बी.टेक छात्र ने कहा कि मैंने शिक्षा व विकास के मुद्दे पर वोट दिया. केंद्र सरकार न सिर्फ शिक्षा पर ध्यान दे रही है, बल्कि कौशल पर भी दे रही है. उन्होंने छात्रों के कौशल विकास के लिए जमीन तैयार की है. मैंने मोदी को वोट दिया है.

लोकसभा चुनाव से जुड़ी खबरों के लिए पढ़ते रहें India.com