अलीगढ़: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रविवार को यूपी के अलीगढ़ में कहा कि आतंकवाद, भ्रष्टाचार और गरीबी हटाना उनका मिशन है. मोदी ने यहां एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा, ‘मोदी का मिशन है. आतंकवाद को हटाना, भ्रष्टाचार को हटाना, बीमारी को हटाना, गरीबी को हटाना.’ उन्होंने उत्तर प्रदेश की पूर्व की सरकारों में हुई अनदेखी का उल्लेख करते हुए कहा, ” इतना बड़ा उत्तर प्रदेश और यहां इतने बड़े शक्तिशाली लोग, लेकिन उत्तर प्रदेश का हिंदुस्तान में जो स्थान बनना चाहिए था, ये यहां की राजनीति ने बनने नहीं दिया.’ वहीं, पीएम ने सपा-बसपा पर हमला बोलते हुए कहा ‘आप कहते हैं कि आतंकवाद हटना चाहिए, लेकिन महामिलावट वाले कहते हैं कि मोदी हटना चाहिए.’

भोपाल लोकसभा सीट से बीजेपी ने दिग्‍विजय सिंह के खिलाफ उमा भारती को उतारने की तैयारी की

पीएम ने कहा, पहले क्‍या होता था. आतंकवादी पाकिस्‍तान से आते थे, हम पर हमला करते थे और कांग्रेस सरकार दुनिया के सामने चिल्‍लाती रहती थी कि हम पर हमला हुआ है. लेकिन अब ये न्‍यू इंडिया है. जब आतंकियों ने उरी में हमला किया तो बहादुर सैनिकों ने सर्जिकल स्‍ट्राइक की. जब उन्‍होंने दोबारा गलती पुलवामा की, हम उनके घर में घुस गए और एयर स्‍ट्राइक की. उधर वालों को भी समझ में आ गया है कि अगर तीसरी गलती हुई तो लेने के देने पड़ जाएंगे.

मध्‍य प्रदेश में बीजेपी के 24 सीटों के उम्‍मीदवार घोषित, अब तक मौजूदा 10 सांसदों के टिकट कटे

मोदी ने जनसभा में आए लोगों से कहा, ‘दुनिया में चेन्नई की चर्चा होती है. बेंगलूरू, मुंबई और अहमदाबाद की चर्चा होती है, मेरे उत्तर प्रदेश की होनी चाहिए कि नहीं, दुनिया के लिए उत्तर प्रदेश सबसे आकर्षण का केंद्र बनना चाहिए कि नहीं….’ वहीं सपा-बसपा पर निशाना साधते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, ‘जो लोग लोकसभा में प्रधानमंत्री का सपना देख रहे हैं. जो 40 सीट पर चुनाव नहीं लड़ रहे हैं, वो क्या देश के प्रधानमंत्री बन सकते हैं.’ उन्होंने तंज कसा, ‘आप कहते हैं कि आतंकवाद हटना चाहिए, लेकिन महामिलावट वाले कहते हैं कि मोदी हटना चाहिए.’

BJP के 6 प्रत्याशियों की लिस्ट जारी, बेटे को टिकट मिला तो केंद्रीय मंत्री ने की इस्‍तीफे की पेशकश

बाबा साहेब भीमराव आंबेडकर की जयंती के मौके पर उन्हें याद करते हुए मोदी ने कहा, ‘ये बाबासाहेब के संविधान की ताकत है कि दलित समाज से निकलकर एक सज्जन राष्ट्रपति पद पर हैं. ये बाबासाहेब का संविधान है कि एक चाय वाला भी प्रधानमंत्री बन सकता है.’

पीएम ने कहा कि मोदी अपनी नहीं, बल्कि पूरे देश की सोचता है. ‘आप सभी लोगों के सहयोग से बाबा साहब के बताए रास्ते पर चलने का इस चौकीदार ने प्रयास किया है. ‘सबका साथ, सबका विकास’ के मंत्र पर सरकार चलाई है.’ मोदी ने कहा, ‘भाजपा और इस चौकीदार पर इस विश्वास का कारण स्पष्ट है. पांच वर्ष के विकास का इतिहास और आने वाले पांच वर्ष में विकास की नई आस.’

कठुआ में बोले PM मोदी, ‘भारत का अभिन्‍न अंग है जम्‍मू-कश्‍मीर, कोई अपनी वसीयत में लिखाकर नहीं लाया’

सपा-बसपा सहित विपक्षी दलों को निशाने पर लेते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश 2014 में इन्हें बता चुका है कि जाति की स्वार्थभरी राजनीति नहीं, विकास चाहिए. उन्होंने कहा, ‘उत्तर प्रदेश ने 2017 में फिर इन्हें बताया कि जाति की स्वार्थ भरी राजनीति नहीं, सबका साथ सबका विकास चाहिए.’

मोदी ने सपा-बसपा पर हमला जारी रखते हुए कहा, ‘(पश्चिमी उत्तर प्रदेश में) कैसे बहन-बेटियों के साथ दुर्व्यवहार हुआ, कैसे लोगों को अपना घर, अपना कारोबार छोड़ना पड़ा, ये देश ने देखा है. जब पश्चिमी यूपी जल रहा था, मासूम लोग मारे जा रहे थे, तब उसके पीड़ितों की आवाज को अनसुना करने वाला कौन था?’

चुनाव प्रचार करने मथुरा पहुंचे धर्मेंद्र, हेमामालिनी ने तस्‍वीर ट्वीट कर कही ये बात

पीएम ने कहा, ‘अपने स्वार्थ की पूर्ति के लिए ऐसे लोगों ने पश्चिमी उत्तर प्रदेश के लोगों की दुख-तकलीफें, उन पर जो गुजरी, सब भुला दिया है. पश्चिमी यूपी में कितना बड़ा पाप हुआ, पूरा देश इसका गवाह रहा है.’ उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत गरीबों को घर दिए जा रहे हैं तो इसका फायदा भी सबको हुआ है. सौभाग्य योजना के तहत बिजली का कनेक्शन भी हर परिवार को मिला है, चाहे वो किसी भी जाति का हो. मोदी ने कहा कि उज्ज्वला योजना के तहत मुफ्त गैस कनेक्शन दिया गया है तो इसका फायदा सबको हुआ है .

एमपी में बीजेपी के सामने अपनी 27 सीटों को बचाने की बड़ी चुनौती, हो सकती है क्‍लोज फाइट