अहमदनगर: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए मतदाताओं से ‘ईमानदार चौकीदार’ और ‘भ्रष्टाचारी नामदार’ के बीच चुनाव करने के लिए कहा. अहमदनगर और शिरडी लोकसभा क्षेत्र के उम्मीदवारों के लिए प्रचार करते हुए यहां एक चुनावी रैली में मोदी ने यह भी कहा कि दुनिया ने पिछले पांच वर्ष में भारत को महाशक्ति के रूप में देखा है.

 

उन्होंने कहा कि बीते पांच वर्ष में जनभागीदारी से चलने वाली एक मजबूत, निर्णय लेने वाली सरकार दुनिया ने भारत में देखी है. उससे पहले 10 साल तक रिमोट वाली सरकार के दिनों में हर दिन घोटालों, घपलों की खबरें आती थीं. आपको तय करना है कि ईमानदार चौकीदार चाहिए या फिर भ्रष्टाचारी नामदार. हिंदुस्तान के हीरो चलेंगे या पाकिस्तान के पैरवीकार. पहली बार वोट देने जा रहे मतदाताओं से मोदी ने कहा कि 21वीं सदी में जन्मे जो लोग इस बार पहली बार वोट देने जा रहे है. मैं उसने पूछना चाहता हूं कि क्या आपको राष्ट्रीय सुरक्षा से समझौता मंजूर है?

 

मोदी ने नेशनल कांफ्रेंस पर निशाना साधा
मोदी ने जम्मू कश्मीर के लिए प्रधानमंत्री के पद की मांग को लेकर कांग्रेस के सहयोगी दल नेशनल कांफ्रेंस पर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि मुझे कांग्रेस से कोई उम्मीद नहीं है क्योंकि उसने बहुत पहले ही लोगों के बारे में सोचना बंद कर दिया. शरद पवार पर निशाना साधते हुए मोदी ने कहा कि राकांपा अध्यक्ष ने देश के नाम पर कांग्रेस छोड़ दी थी. उन्होंने कहा कि शरद राव, दो प्रधानमंत्री की मांग पर आप कैसे चुप रह सकते हैं. आप चुप क्यों हो? क्या आपको यह मंजूर है? उन्होंने कहा कि आपकी पार्टी का नाम राष्ट्रवादी है और फिर भी आप देश को विदेशी चश्मे से देखते हो. क्या आपकी पार्टी में राष्ट्रवादी नाम लोगों को मूर्ख बनाने के लिए है.

मोदी बायोपिक: सुप्रीम कोर्ट पहुंचे ‘PM नरेंद्र मोदी’ फिल्‍म के निर्माता, सोमवार को होगी सुनवाई

राहुल पर बोला हमला-‘तुगलक रोड चुनावी घोटाला’
राहुल गांधी की आलोचना जारी रखते हुए मोदी ने मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के सहयोगियों पर आयकर विभाग के छापों को जोड़ते हुए दावा किया कि यह ‘तुगलक रोड चुनावी घोटाला’ है. उन्होंने कहा कि दिल्ली के तुगलक रोड से मिल रही नोटों की गड्डियों से भरी बोरियां कांग्रेस की असली पहचान है. प्रधानमंत्री ने कहा कि गरीबी हटाने, आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर और समाज के सभी वर्गों के विकास के लिए कांग्रेस को हराने की जरुरत है.

राफेल पर राहुल गांधी के बयान के खिलाफ सु्प्रीम कोर्ट पहुंची मीनाक्षी लेखी, 15 को होगी सुनवाई

कांग्रेस, राकांपा को बताया महामिलावटी
उन्होंने कहा कि आज एक तरह कांग्रेस, राकांपा की महामिलावट के खोखले वादे हैं और दूसरी तरफ राजग के बुलंद इरादे हैं. कांग्रेस, राकांपा की सरकार में कभी मुंबई में बम धमाके, कभी पुणे में, कभी ट्रेन में, कभी बसों में धमाके होते थे लेकिन पिछले पांच साल में ये बम धमाके बंद हो गए हैं. मोदी ने कहा कि इस चौकीदार ने आतंक के सरपरस्तों में यह डर बिठाया है कि उनकी एक भी गलती,उन्हें भारी पड़ेगी. यह चौकीदार उन्हें पाताल से भी खोजकर निकाल लाएगा और उन्हें सजा देगा.