सुरेन्द्रनगर/हिम्मतनगर/आणंद (गुजरात): प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बुधवार को कहा कि वह पाकिस्तान की परमाणु हमले की धमकी से नहीं डरने वाले क्योंकि भारत के पास सभी “बमों का बम” है. मोदी ने गुजरात के सुरेन्द्रनगर में रैली में यह बात कही. उनका इशारा उड़ी और पुलवामा आतंकी हमलों के जवाब में पाकिस्तान में की गई सर्जिकल स्ट्राइक और हवाई हमले की ओर था. मोदी ने कहा, “अब से पहले पाकिस्तान से आतंकवादी यहां आते थे और हमला करके चले जाते थे. पाकिस्तान हमें धमकाता था कि उसके पास परमाणु बम है और अगर भारत ने पलटवार किया तो हम बटन दबा देंगे.” Also Read - पाकिस्तानी सेना ने कहा- हम ‘जंग के लिए तैयार’ हैं, लेकिन अमन-चैन की राह पर चलना पसंद है

प्रधानमंत्री ने कहा, “हमारे पास बमों का बम है. मैंने उनको बताया कि जो करना है कर लो (लेकिन हम पलटवार करेंगे). उन्होंने कहा, “अतीत में हमारे लोग रोते थे, दुनिया को जाकर बताते थे कि पाकिस्तान ने ये कर दिया, वो कर दिया, लेकिन अब पाकिस्तान के रोने की बारी है.” मोदी ने कहा, “क्या हमारे जवानों ने उन्हें उनके घरों में घुसकर नहीं मारा? क्या हम उन्हें उनके घरों में घुसकर नहीं मारेंगे? क्या हम अपने शहीद सैनिकों का बदला नहीं लेंगे?” Also Read - पाक सेना के साथ अभ्यास करेगी इंडियन आर्मी, कांग्रेस ने इसे आतंक पीड़ितों का अपमान बताया

उन्होंने कहा, “आज महावीर जयंती है, शांति का पालन करने का दिन. लेकिन हमें शांति कब मिलेगी? क्या कोई शांति की अपील करने वाले की सुनता है या किसी मजबूत आदमी की चेतावनी सुनता है, जो अपने बाजू रखता है? केवल एक मजबूत व्यक्ति की शांति की अपील सुनी जाएगी, कमजोर व्यक्ति की नहीं.” उन्होंने सशस्त्र बलों को लेकर भी कांग्रेस पर निशाना साधा. Also Read - भोजपुरी के पाठकों के लिए विशेषः पाकिस्तान के गरियाईं, रोज मुर्दाबादी नारा लगाईं बाकि तनि इहो जान लीं

मोदी ने कहा, “आपने देखा होगा कि इस चुनाव में कांग्रेस पार्टी का चरित्र कैसे बदल गया है. जिस तरह से कांग्रेस झूठ फैलाती है, और देश की सेना पर यह कहते हुए सवाल उठाती है कि उसके प्रमुख सड़कछाप गुंडे हैं, वायु सेना प्रमुख झूठे हैं … यदि आप ऐसा कुछ कहेंगे तो क्या इससे पाकिस्तान खुश नहीं होगा?”

वहीं हिम्मतनगर में एक रैली के दौरान मोदी ने कहा कि तत्कालीन संप्रग सरकार ने उनके नेतृत्व वाली सरकार को गिराने के लिये भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और गुजरात के कुछ पुलिस अधिकारियों को गिरफ्तार कर लिया था. मोदी ने कहा, चुनाव तय करेंगे कि देश में राष्ट्रवादी ताकतें शासन करेंगी या फिर वह, जो देशद्रोह कानून हटाकर ‘टुकड़े-टुकड़े गैंग’ की मदद करना चाहते हैं.