सिलिगुड़ीः प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी पर पश्चिम बंगाल के विकास में ‘गतिरोधक’ होने का आरोप लगाते हुए कहा कि राज्य की बेहतरी के लिए उन्हें जाना होगा. मोदी ने कांग्रेस के घोषणापत्र को लेकर उसे भी निशाने पर लेते हुए कहा कि सशस्त्र बल विशेष शक्तियां अधिनियम (आफ्सपा) की कुछ उपधाराओं की समीक्षा की बात चल रही है, जो आतंकवादियों के खिलाफ लड़ाई में सुरक्षा बलों के लिए “ढाल” की तरह काम करता है.

मोदी ने कांग्रेस और उसके सहयोगी दलों पर पाकिस्तान से हमदर्दी रखने का आरोप लगाते हुए दावा किया, “वह (कांग्रेस) हमारे सुरक्षाबलों को असहाय बनाना चाहती है, उनके हाथ-पांव बांधना चाहती है.” प्रधानमंत्री ने चुनाव की घोषणा के बाद ममता बनर्जी के गढ़ में पहली रैली करते हुए उनपर आरोप लगाया, “दीदी (ममता बनर्जी) पश्चिम बंगाल के विकास में गतिरोधक हैं.”

उन्होंने आरोप लगाया कि ममता ने गरीबों के उत्थान से जुड़ी केंद्र की कई योजनाओं को रोक दिया है. मोदी ने कहा कि ‘गतिरोधक दीदी’ ने पश्चिम बंगाल के लोगों को आयुष्मान भारत योजना का लाभ नहीं लेने दिया. प्रधानमंत्री ने कहा, “मैं चाहता हूं कि यह गतिरोधक हट जाए ताकि विकास को गति मिल सके.”