नयी दिल्ली: लोकसभा चुनावों में प्रचंड बहुमत के बाद अपनी मंत्रिपरिषद के साथ शपथ लेने वाले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बृहस्पतिवार को कहा कि मंत्रियों की नई टीम ‘युवा ऊर्जा एवं प्रशासनिक अनुभव’ का मेल है और हम साथ मिलकर भारत की प्रगति के लिये काम करेंगे.

 

शपथ लेने के बाद मोदी ने अपने ट्वीट में कहा कि आज शपथ लेने वाले सभी को बधाई. यह टीम ऊर्जा से भरे युवाओं और प्रशासनिक अनुभव रखने वालों का मिश्रण है. उन्होंने कहा कि इसमें ऐसे लोग हैं जो सांसद के रूप में उभर कर आए हैं और ऐसे भी हैं जिनका पहले शानदार पेशेवर कैरियर रहा है. मोदी ने कहा कि हम साथ मिलकर भारत की प्रगति के लिये काम करेंगे. भारी जनादेश के साथ सत्ता में आए भारतीय जनता पार्टी के नेतृत्व वाले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के नेता के तौर पर नरेंद्र मोदी ने बृहस्पतिवार को लगातार दूसरी बार प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ली.

 

राष्ट्रपति ने दिलाई मंत्रिमंडल के 57 सदस्यों को पद व गोपनीयता की शपथ
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने राष्ट्रपति भवन के प्रांगण में एक भव्य समारोह में मोदी व उनके मंत्रिमंडल के 57 सदस्यों को पद व गोपनीयता की शपथ दिलाई. करीब दो घंटे चले शपथ ग्रहण समारोह में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन :राजग: की जीत के सूत्रधार रहे भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और पूर्व विदेश सचिव एस जयशंकर आकर्षण का केंद्र रहे. खासकर जयशंकर को मंत्रिमंडल में शामिल कर और कैबिनेट मंत्री का दर्जा देकर प्रधानमंत्री मोदी ने सभी को चौंका दिया. जयशंकर भारतीय विदेश सेवा के दूसरे ऐसे अधिकारी हैं जिन्हें मोदी ने अपने मंत्रिमंडल में स्थान दिया है.