खरगोन (मध्यप्रदेश): प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शुक्रवार को देश के आदिवासियों को आश्वासन देते हुए कहा कि जब तक मोदी और भाजपा है, तब तक जंगलों में रहने वाले लोगों की भूमि को कोई हाथ नहीं लगा सकता. खरगोन लोकसभा सीट (अजजा) से पार्टी प्रत्याशी गजेन्द्र पटेल के समर्थन में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि आदिवासी समाज ने कांग्रेस की सच्चाई को पूरी तरह पहचाना है और हमेशा के लिये कांग्रेस के झूठ एवं प्रपंच को नकार दिया है. उन्होंने कहा कि आदिवासी अब कांग्रेस से सवाल पूछने लगे हैं.

मोदी ने कहा गुजरात में बहुत बड़ा आदिवासी समाज है. आदिवासी कल्याण के लिये मेरी किताब है. बहुत साल पहले लिखी किताब है. इसलिये मैं आदिवासी समाज के सुख-दुख जानता हूं. उन्होंने कहा कि मैं आश्वस्त करता हूं जब तक मोदी है, जब तक भाजपा है, तब तक जंगल में रहने वालों के अधिकारों को, उनकी जमीन को कोई हाथ नहीं लगा सकता. कांग्रेस पर तंज करते हुए मोदी ने कहा कि झूठ फैलाने वाले को सजा दो. आपके अंदर विभाजन करने वाले को सजा दो. उन्होंने कहा कि उनको (कांग्रेस) आदिवासियों का कल्याण नहीं करना है. अपने को आदिवासियों का सेवक बताते हुए मोदी ने कहा कि आपका यह सेवक आदिवासी समाज की पढ़ाई, कमाई, दवाई, सिंचाई एवं जन-जन की सुनवाई के लिए पूरी निष्ठा से काम कर रहा है. उन्होंने कहा कि देश में भाजपा नीत राजग सरकार अगले पांच साल में पानी की समस्या पर पूरी तरह से समर्पित होकर काम करेगी.

गोडसे को देशभक्त बताने पर पीएम मोदी बोले- साध्वी प्रज्ञा को कभी मन से माफ नहीं करूंगा

राममनोहर लोहिया को किया याद
मोदी ने समाजवादी विचारक राममनोहर लोहिया को याद करते हुए कहा कि लोहिया ने 50 साल पहले देश की महिलाओं की दो समस्याएं पानी और शौचालय की बताते हुए इस पर चिंता की थी. वह (लोहिया) नेहरु के आगे बोलते थे, बार-बार बोलते थे. लेकिन आज समाजवाद के नाम पर लोग लाल टोपी पहन कर निकल जाते हैं और लोहिया की बात नहीं सुनी. हमने लोहिया जी का सपना पूरा करने के लिये शौचालय बनाने का अभियान चलाया और महिलाओं की दूसरी समस्या पानी की हल करने के लिये अगले पांच साल मेरी पूरी ताकत पानी पर लगाने वाला हूं, ताकि घर-घर शुद्ध पानी मिले और किसानों को सिंचाई का पानी मिले.

साध्वी प्रज्ञा के बयान के बाद सख्त हुई बीजेपी, पार्टी अनुशासन समिति को मामला भेज मांगी रिपोर्ट

कमलनाथ सरकार पर बोला हमला
मध्य प्रदेश की कमलनाथ के नेतृत्व वाली कांग्रेस नीत सरकार पर कटाक्ष करते हुए मोदी ने कहा कि यहां कांग्रेस ने दस दिन में कृषि ऋण माफ नहीं हुआ तो मुख्यमंत्री बदलने का वादा किया था. लेकिन 150 दिन हो गये मुझे बताइये कर्ज माफ हुआ क्या? ये झूठ बोलते हैं कि नहीं. किसान परेशान हैं. बैंक नया कर्ज दे नहीं रहे और किसान के घर पर पुलिस भेज रहे हैं. उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश में मुख्यमंत्री तो नहीं बदला, बल्कि आज मध्य प्रदेश में ढाई मुख्यमंत्री बना दिये. प्रदेश में कहीं कोई काम नहीं हो रहा है और ढाई मुख्यमंत्री के कारनामें तो आप देख रहे हैं. प्रदेश में तबादला उद्योग से कर्मचारी परेशान हैं. कांग्रेस ने बिजली का बिल आधा करने का वादा किया था, लेकिन उनका शैतानी दिमाग देखिये बजाय इसके उन्होंने बिजली की आपूर्ति ही आधी कर दी.

कांग्रेस पर लगाया आरोप
मोदी ने कांग्रेस पर नये घोटाले ‘तुगलग रोड चुनाव घोटाले’ का आरोप लगाया और कहा कि दिल्ली से केन्द्र सरकार से महिलाओं और बच्चों का कुपोषण दूर करने लिये पोषण आहार का जो पैसा हमने भेजा, वह भी इन्होंने चुनाव प्रचार में लगा दिया. उन्होंने कहा कि ‘तुगलक रोड चुनाव घोटाला’ पूरे देश ने टीवी पर देखा. कांग्रेस नेताओं के घर से बोरे भर-भर कर नोट मिले.

लोकसभा चुनाव से जुड़ी खबरों के लिए पढ़ते रहें India.com