नई दिल्ली. पीएम नरेंद्र मोदी ने सोमवार को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर हमला बोला. बंगाल के श्रीरामपुर में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने सोमवार को मतदान के दौरान आसनसोल में हुई हिंसा को लेकर भी तृणमूल कांग्रेस पर प्रहार किया. वहीं, बीते ममता बनर्जी द्वारा मिट्टी से बने रसगुल्ले भेजने के बयान को लेकर भी पीएम मोदी ने तंज किया. उन्होंने कहा कि दीदी ने कहा है कि वो मुझे बंगाल की मिट्टी और कंकड़ से बना रसगुल्ला खिलाना चाहती हैं. मैं ममता बनर्जी से कहना चाहता हूं कि बंगाल की मिट्टी में विवेकानंद, रामकृष्ण परमहंस, नेताजी, श्यामा प्रसाद मुखर्जी का अंश है. यह रसगुल्ला मेरे लिए प्रसाद होगा. पीएम मोदी लोकसभा चुनाव के चौथे चरण के मतदान के दिन बंगाल में रैली को संबोधित करने पहुंचे हैं.

लोकसभा चुनावः चौथे चरण की इन 14 VIP सीटों पर डाले जा रहे हैं वोट

दरअसल, कुछ दिन पहले पीएम मोदी ने बॉलीवुड अभिनेता अक्षय कुमार को दिए एक इंटरव्यू में कहा था कि विपक्षी नेताओं के साथ उनके मधुर संबंध हैं. इसी क्रम में पीएम मोदी ने कहा था कि ममता बनर्जी उनके लिए कुर्ता भेजती हैं. इसके जवाब में ममता बनर्जी ने कहा था कि वह पीएम मोदी को मिट्टी और कंकड़ से भरा रसगुल्ला भेजेंगी, जिसको खाने से दांत टूट जाएंगे. सोमवार को श्रीरामपुर की रैली के दौरान पीएम मोदी ने ममता बनर्जी के इसी आक्षेप का जवाब दिया. पीएम मोदी ने कहा, ‘दीदी ने कहा है कि वो मुझे बंगाल की मिट्टी से बना रसगुल्ला खिलाना चाहती हैं. बंगाल की मिट्टी का रसगुल्ला मतलब, रामकृष्ण परमहंस, विवेकानंद जी, चैतन्य महाप्रभु, नेताजी, श्यामा प्रसाद मुखर्जी जैसे महापुरुषों की चरण रज. ये जब मुझे मिलेगा तो मेरा जीवन धन्य हो जाएगा. यह रसगुल्ला मेरे लिए प्रसाद जैसा होगा.’

पीएम मोदी ने अपने संबोधन के दौरान कहा कि इस बार का चुनाव राष्ट्रभक्ति की भावना को नकारने वाले लोगों के खिलाफ है. उन्होंने कहा, ‘अपनी वोट भक्ति के लिए जो लोग राष्ट्रभक्ति की भावना को नकारने लगें. वंदे मातरम और भारत माता की जय से पहले 100 बार सोचने लगें. ऐसे लोगों से बंगाल की जनता को सावधान रहना है.’ श्रीरामपुर की सभा से पहले पीएम मोदी ने बैरकपुर में भी चुनावी सभा को संबोधित किया. पीएम मोदी ने लोगों से भाजपा के पक्ष में वोट करने की अपील करते हुए कहा कि भाजपा की बंगाल में बढ़ती शक्ति से कुछ लोग परेशान हैं. उन्होंने कहा, ‘इन तस्वीरों को देखकर कुछ लोगों की हालत और पस्त होने वाली है. ऐसा लग रहा है कि पश्चिम बंगाल की जनता में प्रतिस्पर्धा चल रही है. पहली से बड़ी दूसरी रैली, दूसरी से बड़ी तीसरी रैली. जैसे जैसे आपका ये उत्साह बढ़ता जाता है. वैसे वैसे दीदी का दिमाग फटता जाता है.’

(इनपुट – एजेंसी)

लोकसभा चुनाव से जुड़ी खबरों के लिए पढ़ते रहें India.com