नई दिल्ली. लोकसभा चुनाव के छठे चरण के मतदान से पहले पीएम नरेंद्र मोदी ताबड़तोड़ रैलियां कर भारतीय जनता पार्टी के पक्ष में चुनाव प्रचार कर रहे हैं. खासकर उन इलाकों में पीएम मोदी की रैलियां ज्यादा हो रही हैं, जहां पिछले चुनावों में भाजपा को ज्यादा सीटें हासिल नहीं हो पाई थीं. गुरुवार को इसी क्रम में पीएम मोदी ने पश्चिम बंगाल के पुरुलिया में एक चुनावी रैली को संबोधित किया. रैली में अपने संबोधन के दौरान पीएम मोदी ने बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी द्वारा उन्हें थप्पड़ मारे जाने वाले बयान पर जवाब दिया. पीएम मोदी ने कहा कि इस समय मोदी को गाली देने का देशभर में अभियान चल रहा है. ममता दीदी ने तो मुझे थप्पड़ मारने की बात कही है. पीएम मोदी ने कहा कि भाजपा के प्रति समर्थन बढ़ता देखकर विपक्ष की जमीन खिसक गई है. इसलिए मैं ममता बनर्जी से कहना चाहता हूं, ‘ममता दीदी आपका थप्पड़ भी मेरे लिए आशीर्वाद बन जाएगा.’

लोकसभा चुनाव से जुड़ी खबरों के लिए पढ़ते रहें India.com

पीएम मोदी ने पुरुलिया की चुनावी जनसभा में तृणमूल कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि भाजपा को मिले जनसमर्थन से ममता बनर्जी बौखला गई हैं. पीएम ने कहा, ‘पुरुलिया से और समूचे पश्चिम बंगाल से जो मुझे प्यार मिल रहा है, उसे मैं ब्याज समेत इस प्रदेश का विकास कर लौटाऊंगा.’ ममता बनर्जी द्वारा किए गए हमले को लेकर पीएम ने कहा, ‘इस समय पूरे देश में मोदी को गाली देने का अभियान चल रहा है. लोकसभा चुनाव के पहले 5 चरणों में बीजेपी को जो समर्थन मिला है, उससे महामिलावटी दल हताश है. बंगाल में जिस तरह आप लोग दीदी के खिलाफ उठ खड़े हुए हैं, उसने दीदी की जमीन खिसका दी है और मैं आपको कहता हूं कि पूरा देश आपके साथ है. पुरुलिया आज जो सोचता है, वही कल बंगाल की सोच बन जाती है.’

लोकसभा चुनाव के मतदान के दौरान हुई हिंसा को लेकर भी पीएम मोदी ने हमला बोला. उन्होंने कहा, ‘जिन्होंने बंगाल में गणतंत्र को गुंडा तंत्र में बदला है, उनके दिन अब गिनती के रह गए हैं. इन लोगों को पहला धक्का 23 मई को लगने वाला है और उसके बाद देश सभी का हिसाब चुकता करेगा.’ ममता बनर्जी पर निशाना साधते हुए पीएम मोदी ने कहा, ‘जिन लोगों को दीदी ने अपना कैडर बनाया है, उनकी चुन-चुनकर पहचान होगी. जो यहां बहन-बेटियों को सभ्य बंगाली मानुष को परेशान करते हैं, उनकी पहचान की जाएगी. दीदी बौखलाई हुई हैं. मुझे बताया गया है कि दीदी ने कहा है कि वह मोदी को थप्पड़ मारना चाहती हैं. दीदी ओ ममता दीदी, आपका थप्पड़ तो मेरे लिए आशीर्वाद बन जाएगा.’

सारधा घोटाले को लेकर ममता बनर्जी पर प्रहार करते हुए पीएम मोदी ने कहा, ‘दीदी, मैं वह थप्पड़ भी खा लूंगा, लेकिन अगर आपने चिटफंड वाले लुटेरों को थप्पड़ मारने की हिम्मत दिखाई होती तो आपको इतना डर नहीं लगता और आपकी इतनी बर्बादी नहीं होती. आपने मां-माटी-मानुष के नाम पर वोट बटोर लिया, मगर आपने इनकी दुर्दशा कर दी है. दीदी, आप अपने भतीजे का करियर बनाने में जुटी हैं. लेकिन 23 मई को जब एक बार फिर मोदी सरकार बनेगी, तो इस सबका हिसाब होगा.’