राजामुंद्री (आंध्रप्रदेश). प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू पर अपना हमला तेज करते हुए सोमवार को उनकी तुलना चर्चित फिल्म ‘बाहुबली’ के खलनायक भल्लालदेव से की. मोदी ने कहा कि वह किसी भी तरह से सत्ता अपने परिवार के पास रखने की कोशिश में हैं. प्रधानमंत्री यहां भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की एक रैली को संबोधित कर रहे थे. उन्होंने तेलुगू देशम पार्टी (तेदेपा) प्रमुख को बार-बार ‘यू-टर्न बाबू’ कहा और तेदेपा पर लोगों का डाटा चुराने में संलिप्त होने का आरोप लगाया. आपको बता दें कि आंध्र प्रदेश की 175 विधानसभा सीटों के साथ-साथ प्रदेश की 25 लोकसभा सीटों के लिए 11 अप्रैल को मतदान होगा.

शिवराज का इशारा, लोकसभा चुनाव लड़ने की इच्‍छा नहीं, मध्यप्रदेश के लिए काम करने की तमन्‍ना

मोदी ने कहा, “मुझे बताया गया कि तेदेपा ने एक नया काम शुरू किया है जो सेवा मित्र एप के जरिए साइबर अपराध से जुड़ा है. सेवा मित्र न तो कोई सेवा करता है और न ही मित्र है, बदले में यह लोगों का डाटा चोरी कर रहा है.” मोदी ने यह बात तेदेपा को सेवा प्रदान करने वाली एक आईटी कंपनी के खिलाफ तेलंगाना में मार्च में दर्ज डाटा चोरी के एक मामले के संदर्भ में कही. उन्होंने कहा कि झूठ, हताशा और यू-टर्न तेदेपा सरकार की पहचान बन गई है. उन्होंने कहा, “दो साल पहले दिए बयान को देखें और आज वह (नायडू) जो कह रहे हैं, उसको देखें. वह कुछ नहीं कर सकते हैं, लेकिन दूसरों पर आरोप लगा सकते हैं. लोग ऐसे नेतृत्व पर भरोसा नहीं कर सकते.”

फेसबुक ने कांग्रेस की आईटी सेल से जुड़े 687 और नमो ऐप से जुड़े 15 पेज, खाते हटाए

पीएम मोदी ने दावा किया कि भाजपा आंध्र प्रदेश की विरासत की रक्षा करना चाहती है ‘जिस पर यू-टर्न बाबू का खतरा बना हुआ है.’ उन्होंने चंद्रबाबू नायडू के बारे में कहा, “उनको अपनी विरासत (हेरिटेज) की चिंता है.” मोदी का सीधा संकेत नायडू परिवार की डेयरी कंपनी हेरिटेज फूड की ओर था. प्रधानमंत्री ने कहा, “वादा आंध्र प्रदेश की विरासत का है लेकिन यू-टर्न बाबू की विरासत विश्वासघात है. आंध्र प्रदेश की विरासत ईमानदारी और पारदर्शिता है लेकिन यू-टर्न बाबू की विरासत बेईमानी और भ्रष्टाचार है.” उन्होंने आरोप लगाया कि पोलावरम परियोजना तेदेपा सरकार के लिए ‘एटीएम’ बन गई है जो परियोजना की लागत लगातार बढ़ाए जा रही है. उन्होंने कहा कि परियोजना चार दशकों से लटकी हुई है और पूर्व की सरकारें और वर्तमान तेदेपा अपराध में साझेदार हैं.

राहुल के लिए आसान नहीं है ‘वायनाड फतह’, वाम मोर्चा ने कहा- नहीं हटाएंगे अपना उम्मीदवार

मोदी ने कहा कि उनकी सरकार ने मंत्रिमंडल की पहली ही बैठक में पोलावरम को राष्ट्रीय परियोजना घोषित किया. उन्होंने कहा कि उनकी सरकार ने सभी बाधाएं दूर कर दीं और अब तक 7,000 करोड़ रुपए जारी किए हैं, लेकिन तेदेपा सरकार की मंशा इस परियोजना को पूरा करने की नहीं है. पिछले पांच साल में केंद्र सरकार द्वारा उठाए गए कदमों का जिक्र करते हुए मोदी ने कहा कि उनकी सरकार ने पांच लाख रुपए तक की आय वालों के लिए आयकर शून्य कर दिया है जो सोमवार से लागू हो गया है. उन्होंने लोगों से आंध्र प्रदेश और केंद्र दोनों में भाजपा को सत्ता में लाने की अपील की ताकि अच्छे काम को जारी रखा जा सके.

लोकसभा चुनाव से जुड़ी खबरों के लिए पढ़ते रहें India.com