केंद्रपाड़ा, बालेश्वर (ओडिशा): प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अंतरिक्ष में भारत की रक्षा क्षमताओं को प्रदर्शित करने में विफल रहने के लिए मंगलवार को कांग्रेस की आलोचना की और दावा किया कि पूर्ववर्ती सरकारें केवल नामदार परिवार के हितों की चिंता करती थी, न कि देश के सुरक्षा हितों की. मोदी ने एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा कि बालेश्वर में उस समय इतिहास रचा गया, जब मिशन शक्ति (उपग्रह भेदी मिसाइल परीक्षण) को यहां से लांच किया गया. उन्होंने कहा कि कांग्रेस और विपक्षी दलों की नींद उड़ गई है, क्योंकि दो चरणों के चुनाव के बाद भाजपा के लिए लहर ललकार बन गई है. Also Read - कश्मीर में भारत 22 अक्टूबर को मनाएगा 'काला दिवस', 1947 में पाकिस्तान ने घाटी में कराई थी हिंसा

प्रधानमंत्री ने कहा, बालेश्वर का नाम इतिहास में दर्ज हो गया है, इस स्थान से उपग्रह भेदी मिसाइल को लांच किया गया था. पूर्ववर्ती सरकारें देश की रक्षा क्षमताओं का प्रदर्शन करने से बचती रहीं क्योंकि वे नामदार परिवार के हितों की रक्षा में जुटी रहीं. उन्होंने कहा कि भारत दुनिया में चौथा देश है, जिसने उपग्रह भेदी मिसाइल परीक्षण किया. मोदी ने कहा, भूमि, जल और हवा में पराक्रम स्थापित करने के बाद हम सुपर पावर के तौर पर उभरे हैं. Also Read - महाराष्ट्र में BJP को बड़ा झटका- एकनाथ खडसे ने छोड़ा पार्टी का साथ- NCP में होंगे शामिल?

प्रधानमंत्री केंद्रपाड़ा और बालेश्वर लोकसभा क्षेत्रों में दो चुनावी रैलियों को संबोधित कर रहे थे. ओडिशा में मोदी का यह छठा चुनावी कार्यक्रम था जहां भगवा दल अपने सीटों की संख्या बढ़ाने का प्रयास कर रही है. ओडिशा में लोकसभा की कुल 21 सीटें हैं. केंद्रपाड़ा से जहां भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बैजयंत पांडा चुनाव लड़ रहे हैं वहीं, बालेश्वर लोकसभा सीट से तेजतर्रार नेता प्रताप सारंगी मैदान में हैं. Also Read - Bihar Assembly Election 2020: तेजस्वी की चाल में उलझा जदयू, 77 सीटों पर सीधा मुकाबला

विपक्षी दलों पर प्रहार करते हुए उन्होंने कहा, पूरा देश जहां मिशन शक्ति की सफलता का जश्न मना रहा है वहीं, महामिलावटी नाखुश हैं. उन्होंने कहा, मोबाइल से लेकर मिसाइल तक हर चीज अब अंतरिक्ष से नियंत्रित होती है. इसलिए अंतरिक्ष की सुरक्षा आवश्यक है, इस तथ्य को पिछली सरकारों ने नजरअंदाज किया.

उपग्रह भेदी मिसाइल के सफल लांच की घोषणा करने के बाद विपक्ष की आलोचना के लिए मोदी ने उन पर प्रहार किया. उन्होंने कहा, विपक्षी दल कहते हैं कि मोदी को इसे गोपनीय (सफल परीक्षण) रखना चाहिए था. मित्रो, हमें इसे क्यों छिपाना चाहिए था? क्या हमने चोरी की? क्या हमने किसी को लूटकर यह काम किया? क्या हमने किसी को नुकसान पहुंचाया?

भ्रष्टाचार से निपटने में विफल रहने के लिए ओडिशा की बीजद सरकार की आलोचना करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, नवीन पटनायक नीत पार्टी को जब महसूस होने लगा है कि वह सत्ता में अब और बनी नहीं रह सकती तो उन्होंने भाजपा कार्यकर्ताओं पर हमले शुरू कर दिए हैं. उन्होंने कहा, लोगों ने मन बना लिया है कि वे राज्य में बीजद सरकार की जगह भाजपा सरकार लाएंगे ताकि तेज विकास सुनिश्चित हो सके.

लोकसभा के पहले चरण के चुनावों का जिक्र करते हुए मोदी ने दावा किया कि कांग्रेस और विपक्षी दलों की नींद उड़ी हुई है, क्योंकि भाजपा के लिए मजबूत लहर अब उनके लिए ललकार बन गई है. उन्होंने कहा, लहर नहीं ये ललकार है, फिर एक बार मोदी सरकार है. मुझे इतना प्यार तो 2014 में भी नहीं मिला था.