लखनऊ: लोकसभा चुनाव 2019 (lok sabha elections 2019) के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज वाराणसी लोकसभा सीट से अपना नामांकन पत्र दाखिल कर दिया. इस दौरान उनके साथ एनडीए के कई दिग्‍गज नेता भी मौजूद रहे. प्रधानमंत्री मोदी ने कलक्‍ट्रेट पहुंचकर वहां मौजूदा अकाली दल के अध्‍यक्ष प्रकाश सिंह बादल के पैर छूकर आशीर्वाद लिया.

 

पीएम मोदी इससे पहले शहर कोतवाल बाबा काल भैरव के दर्शन-पूजन करने पहुंचे. वहां उन्‍होंने पूजा-अर्चना कर बाबा भैरवनाथ का आशीर्वाद लिया. यहां से वह तेलियाबाग, नदेसर, मिंट हाउस होते हुए कलेक्ट्रेट पहुंचे. जहां भाजपा अध्‍यक्ष अमित शाह ने उनका स्‍वागत किया. मोदी के साथ केन्द्रीय मंत्री राजनाथ सिंह, सुषमा स्वराज, नितिन गडकरी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मौजूद थे. नामांकन से पहले मोदी ने शिवसेना के प्रमुख उद्धव ठाकरे, शिरोमणि अकाली दल के प्रमुख प्रकाश सिंह बादल, लोक जनशक्ति पार्टी के प्रमुख राम विलास पासवान, बिहार के सीएम नीतीश कुमार, अपना दल (सोनेलाल) की प्रमुख अनुप्रिया पटेल से मुलाकात की.

 

PM मोदी ने काल भैरव मंदिर में की पूजा-अर्चना, बाबा का आशीर्वाद लेकर नामांकन के लिए रवाना

पीएम मोदी ने आज कार्यकर्ताओं को किया संबोधित
लोकसभा चुनाव के लिए अपना नामांकन पत्र दाखिल करने से पहले आज सुबह प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पूर्व बूथ अध्यक्षों और सेक्टर प्रमुखों की बैठक को संबोधित किया. उन्‍होंने कहा कि दोस्ती और प्रेम जो राजनीति में खत्म हो रहा है, उसे वापस लाना है. इस दौरान पीएम मोदी ने कहा कि बनारस का चुनाव ऐसा होना चाहिए कि देश के पॉलिटिकल पंडितों को उस पर किताब लिखने का मन कर जाए. उन्होंने कहा कि हमें हेकड़ी नहीं मारनी चाहिए कि हम ही सब कुछ हैं. भगवान ने हमें सब कुछ दिया है.

कार्यकर्ताओं से बोले मोदी- ऐसा हो बनारस का चुनाव कि पॉलिटिकल पंडितों को लिखनी पड़ जाए किताब

मोदी ने कार्यकर्ताओं के ‘हर हर महादेव’ के उद्घोष के बीच महिलाओं के मतदान के महत्व को रेखांकित किया और कहा कि पुरूषों की तुलना में महिलाओं का मतदान पांच प्रतिशत ज्यादा होना चाहिए. प्रधानमंत्री ने वाराणसी सीट से जीत के प्रति विश्वास व्यक्त करते हुए कहा कि जनता ने मन बना लिया है. इतिहास का पहला मौका है कि इस तरह का चुनाव लड़ा जा रहा है.

लोकसभा चुनाव से जुड़ी खबरों के लिए पढ़ते रहें India.com