नई दिल्ली. लोकसभा चुनाव 2019 के परिणाम आने से दो हफ्ते पहले पीएम नरेंद्र मोदी ने जी न्यूज को दिए इंटरव्यू में भाजपा के खिलाफ विपक्षी एकता को ढकोसला करार दिया है. उन्होंने कहा कि 23 मई को जब चुनाव के परिणाम आएंगे, विपक्ष में बिखराव आएगा, क्योंकि भाजपा के खिलाफ सभी विपक्षी दल कंफ्यूज हैं. साक्षात्कार में पीएम मोदी ने पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के जिक्र से लेकर विपक्ष द्वारा खुद को कहे जाने वाले अपशब्दों पर भी अपनी राय रखी. इसके अलावा जनता के बीच मोदी और भाजपा की छवि, चुनावी मुद्दों जैसे अन्य सवालों का भी पीएम मोदी ने खुलकर जवाब दिया.

लोकसभा चुनाव से जुड़ी खबरों के लिए पढ़ते रहें India.com

जी न्‍यूज पर ‘शुद्ध राजनीतिक इंटरव्‍यू’ में पीएम नरेंद्र मोदी ने दावा किया कि आगामी 23 मई को जब लोकसभा चुनाव के नतीजे आएंगे, तो देश में एक बार फिर भाजपा की सरकार बनेगी. पीएम ने कहा कि इस बार बीजेपी को 2014 में हुए लोकसभा चुनाव के मुकाबले और ज्‍यादा सीटें मिलेंगी. उन्होंने कहा, ‘मुझे खुशी होती अगर विपक्ष एक होता, लेकिन वह कन्फ्यूज हैं. वह एक-दूसरे के विरोधी हैं, लेकिन मोदी-वेव के लिए एक दूसरे का हाथ थामे हुए हैं. चुनाव के बाद वह बिखर जाएंगे.’ पीएम मोदी ने कहा, ‘उत्तर प्रदेश में कुछ समय पहले कांग्रेस और सपा ने समझौता किया, लेकिन आज कांग्रेस वहां वोटकटुआ की स्थिति में आ गई है. इन्होंने यहां दिल्ली में समझौते के लिए आकाश-पाताल एक कर दिया, दोनों तरफ से कोशिश हुई लेकिन कोई स्वीकारने को तैयार नहीं है.’

#ModiOnZee: क्या बोरिया बिस्तर बांध रहे हैं पीएम मोदी? सुनें उनका जवाब

चुनाव प्रचार के दौरान विपक्षी दलों द्वारा किए गए हमलों और अपशब्दों के इस्तेमाल पर पीएम मोदी ने कहा कि इतने वर्षों की राजनीति में वह अब इसके आदी हो चुके हैं. उन्होंने कहा, ‘मैं इंसान हूं दर्द मुझे भी होता है. लेकिन मेरी कुछ जिम्मेवारियां हैं, इसलिए उस दर्द को पी जाता हूं…, और ये आज से नहीं पिछले 20 साल से पीते आया हूं.’ उन्होंने कहा, ‘मेरी जिंदगी में मेरे से कभी रॉन्ग साइड पार्किंग का भी गुनाह नहीं हुआ है. नागरिकों के सभी नियमों का मैं पूरी तरह से पालन करता हूं. मेरे खिलाफ पहली एफआईआर 2014 में लोकसभा चुनाव के दौरान हुई. तब मेरे खिलाफ झूठा केस बनाकर एफआईआर हुई.’