कुशीनगर (यूपी): प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रविवार को दावा किया कि लोकसभा चुनाव में विपक्ष धराशायी हो जाएगा, क्योंकि जनता केन्द्र में मजबूत सरकार बनाने का निर्णय कर चुकी है. पीएम मोदी ने पूर्वांचल के कुशीनगर में सपा-बसपा को लेकर कहा कि ये तो वो लोग हैं जो गली के गुंडे तक पर लगाम नहीं लगा पाते, आतंकवाद पर क्या लगाम लगाएंगे. पीएम मोदी ने दावा किया कि अब तक हुई वोटिंग के बाद जो रिपोर्ट आई है, उसके बाद से बुआ और बाबू के स्वार्थी साथ में दरारे आने लगी है. मोदी ने यहां एक चुनावी रैली में कहा कि विपक्षी दल लोकसभा चुनाव में चारों खाने चित हो जाएंगे क्योंकि लोगों ने एक मजबूत और ईमानदार सरकार बनाने की ठान ली है. सपा—बसपा गठबंधन पर प्रहार करते हुए मोदी ने कहा कि वह मायावती और अखिलेश यादव से कहीं ज्यादा वक्त तक गुजरात के मुख्यमंत्री रह चुके हैं, लेकिन उनके दामन पर एक भी दाग नहीं लगा.

Video: सुल्तानपुर में पैसे बांटने के आरोप पर बवाल, मतदान से पहले मेनका गांधी के समर्थकों से मारपीट

राजस्थान के अलवर में पिछले माह हुए सामूहिक बलात्कार काण्ड मामले में बसपा प्रमुख मायावती के निंदात्मक बयान के बारे में प्रधानमंत्री ने कहा कि मायावती घड़ियाली आंसू मत बहाएं. उन्होंने कांग्रेस नेता सैम पित्रोदा की एक विवादित टिप्पणी का जिक्र करते हुए कहा कि राजस्थान की कांग्रेस सरकार एक दलित महिला के साथ हुई दरिंदगी की घटना को दबाना चाहती थी. जम्मू—कश्मीर के शोपियां में आज सुबह हुई मुठभेड़ का जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि क्या हमारे जवाब आतंकवादियों पर गोली चलाने से पहले चुनाव आयोग की इजाजत लेंगे.

लोकसभा चुनाव के छठे चरण में इन सीटों पर होगी कांटे की टक्कर, ये दिग्गज हैं मैदान में

प्रधानमंत्री ने कहा कि ये चुनाव सिर्फ किसी सीट का, किसी को सांसद, मंत्री या प्रधानमंत्री बनाने का नहीं है बल्कि ये देश में एक बुलंद सरकार देने का चुनाव है. यही कारण है कि देश आज राष्ट्र के हितों को सर्वोपरि रखने वाली सरकार केंद्र में चाहता है. आतंक से निपटना सपा और बसपा के बस की बात नहीं है. आज 8 लोग चुनाव लड़ रहे हैं वो कहते हैं हम प्रधानमंत्री बनेंगे, 20 सीटों पर लड़ने वाले भी प्रधानमंत्री बनने के सपने देख रहे हैं. कांग्रेस चाहती है कि भारत के टुकड़े-टुकड़े होने का नारा लगाने वाले, मां भारती को गाली देने वाले, नक्सलियों को मदद देने वाले, हमारे वीर जवानों को पत्थर मारने वाले मौज में रहें. और जान हथेली पर रखने वाले हमारे वीर जवान, कोर्ट कचहरी में केस भुगतते रहें. बुआ और बबुआ ने आज खुद हाथ मिला लिया है. यही इनकी सच्चाई है.

लोकसभा चुनाव से जुड़ी खबरों के लिए पढ़ते रहें India.com