बांदा: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बुंदेलखंड की पानी की समस्या के बारे में गुरुवार को कहा कि बीजेपी की सरकार पुन: बनने पर अलग से ‘जलशक्ति मंत्रालय’ बनाया जाएगा और पानी की समस्या से निपटने के लिए ‘मिशन मोड’ पर काम किया जाएगा. बुंदेलखंड में पानी की समस्या का उल्लेख करते हुए मोदी ने बांदा में जनसभा में कहा, ‘यहां की बहनों का पानी को लेकर संघर्ष मैं अनुभव करता हूं. मैंने यह दर्द करीब से देखा है. इस चुनौती को भी इस चौकीदार ने स्वीकार किया है. जैसे पहले चूल्हे के धुएं से मुक्ति दी, उसी तरह अब बारी पानी की समस्या से निपटने की है. 23 मई को जब आप फिर एक बार मोदी सरकार बनाएंगे तो पानी की समस्या दूर करने के लिए मिशन मोड पर काम किया जाएगा.’Also Read - UP में एक ही परिवार के 4 लोगों की हत्‍या के केस में एक आरोपी गिरफ्तार, मृतक युवती के साथ रेप की पुष्टि

संकल्प लिया है कि जल शक्ति मंत्रालय बनाएंगे
मोदी ने कहा, ‘हमने संकल्प लिया है कि पानी के लिए अलग से जल शक्ति मंत्रालय बनाएंगे. नदियां हों, समंदर हों, वर्षा का पानी हो, जितना भी संसाधन है, सब जगह से तकनीक का उपयोग कर जरूरतमंद क्षेत्रों में जल पहुंचाया जाएगा.’ उन्होंने कहा कि बुंदेलखंड में जो नदियां हैं, उन्हें नई धारा देने के लिए हरसंभव प्रयास किया जाएगा. Also Read - लोकसभा के बाद सोमवार को ही राज्यसभा में पेश हो सकता है कृषि कानूनों को निरस्त करने वाला विधेयक, BJP ने अपने सांसदों को 'पूरी तैयारी' से आने को कहा

बुंदेलखंड के लगभग हर जिले को लाभ मिलेगा
प्रधानमंत्री ने बताया, ‘कुछ महीने पहले ही जब मैं झांसी आया था, तब 9000 करोड़ रुपए की एक पेयजल योजना का शिलान्यास भी किया था. जब ये पाइपलाइन परियोजना हो जाएगी तब बुंदेलखंड के लगभग हर जिले को लाभ मिलेगा. पानी आएगा तो खेतों की प्यास भी बुझेगी.’ उन्होंने कहा कि यह दुर्भाग्य है कि पुरानी सरकारें सिर्फ स्वार्थ की राजनीति में जुटी रहती थीं और सिंचाई परियोजनाओं को लटकाती रहीं. Also Read - त्रिपुरा नगर निकाय चुनाव में सत्तारूढ़ भाजपा का शानदार प्रदर्शन, सभी 51 सीटें जीतीं; नड्डा ने CM बिप्लब को दी बधाई

99 परियोजनाओं को पूरा करने का बीड़ा उठाया
पीएम ने कहा, ‘आपको हैरानी होगी कि सपा-बसपा के सहयोग से चली कांग्रेस सरकार ने देश भर में सैकडों सिंचाई परियोजनाओं को लटका कर रखा था. ऐसी लटकी-भटकी 99 परियोजनाओं को पूरा करने का बीड़ा हमारी सरकार ने उठाया और इनमें से अधिकांश पूरी होने की कगार पर हैं.’

बाणसागर नहर से पानी कई जिलों में पहुंच रहा पानी
मोदी ने कहा कि बाणसागर सिंचाई परियोजना दशकों से लटकी थी. हमारी सरकार ने प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना में इसे शामिल किया और पिछले साल ही इसे राष्ट्र को समर्पित किया. आज इलाहाबाद, मिर्जापुर सहित अनेक जिलों की करीब डेढ़ लाख हेक्टेअर भूमि तक बाणसागर नहर से पानी पहुंच रहा है.

क्‍या सिंचाई की योजनाओं को लटकाने वालों को माफ किया जा सकता है
पीएम ने कहा, ‘जो आपकी दिक्कतों को नहीं समझते, जो पानी की सिंचाई की योजनाओं को लटकाते हैं, क्या ऐसे लोगों को माफ किया जा सकता है.’ मोदी ने कहा कि जनहित के लिए बडे काम तभी होते हैं जब समर्पण भाव से काम किया जाता है. जब सत्ता भोग की बजाय सेवा भाव से काम होता है तब ऐसे काम होते हैं.

बुंदेलखंड को विकास का कॉरिडार बनाने तेजी से आगे बढ़ रहे
प्रधानमंत्री ने कहा कि बुंदेलखंड में खेती के साथ साथ औद्योगिक विकास हो, इसके लिए विशेष प्रयास किए जा रहे हैं. बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे जैसी महत्वपूर्ण परियोजना से इस पूरे क्षेत्र का भाग्य ही बदलने वाला है. बुंदेलखंड को देश की सुरक्षा और विकास का कॉरिडार बनाने की तरफ हम तेजी से आगे बढ़ रहे हैं.

झांसी से आगरा तक बन रहा रक्षा गलियारा
मोदी ने कहा कि झांसी से आगरा तक बन रहा रक्षा गलियारा भारत में ही सेना के अस्त्र-शस्त्र बनाने के अभियान को मजबूत करेगा. साथ ही बुंदेलखंड और उत्तर प्रदेश के युवाओं के लिए रोजगार के नए अवसर भी पैदा करेगा.